राजद नेता तेजस्वी यादव ने 3 विधायकों को 6 साल के लिए पार्टी से किया निलंबित, थाम सकते हैं जदयू का दामन


पटना: बिहार विधानसभा चुनाव से पहले राजद ने अपने तीन विधायकों के खिलाफ बडी कार्रवाई करते हुए अपनी पार्टी के तीन विधायकों को बाहर का रास्ता दिखा दिया है.

राजद ने विधायक के प्रेमा चौधरी, महेश्वर यादव और फराज फातमी को पार्टी से निष्कासित कर दिया है. इन सभी को 6 साल के लिए पार्टी से बाहर किया गया है. ये तीनों विधायक ऐसे हैं जिनको लेकर यह पहले से तय माना जा रहा था कि राजद छोडकर जदयू का दामन थाम सकते हैं. 

राजद के राष्ट्रीय महासचिव आलोक मेहता ने बताया कि प्रेमा चैधरी, महेश्वर यादव और फराज फातमी को पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने की वजह से निकाला गया है. यह तीनों विधायक के पहले से ही जदयू में जाने का मन बना चुके हैं.

महेश्वर यादव लगातार पार्टी में रहते हुए नीतीश कुमार की तारीफ कर रहे थे, जबकि फराज फातमी के पिता अली अशरफ फातमी ने जब से जदयू का दामन थामा, तब से फराज फातमी के जदयू में जाने की चर्चा तेज हो चुकी थी. उन्होंने कहा कि यह तीनों विधायक पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल थे.

लिहाजा राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू यादव के निर्देश पर इन सभी को 6 वर्ष के लिए निलंबित कर दिया गया. यहां बता दें कि ये तीनों विधायक लगातार राजद के खिलाफ जाकर काम कर रहे थे. अब जाकर राजद ने यह कार्रवाई की है.

फराज फातमी पूर्व केंद्रीय मंत्री और राजद छोडकर जदयू में शामिल होने वाले अली अशरफ फातमी के पुत्र हैं और दरभंगा के केवटी विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं. वहीं महेश्वर यादव मुजफ्फरपुर के गायघाट के विधायक भी लगातार तेजस्वी यादव के खिलाफ आक्रामक रूख अख्तियार किए हुए थे.

उन्होंने पहले ही ऐलान कर दिया था कि वे तेजस्वी यादव को नेता नहीं मानते और आगामी चुनाव जदयू के टिकट पर लडेंगे. वहीं, प्रेमा चौधरी वैशाली के पातेपुर से राजद के टिकट पर विधायक बनी थीं. ये भी लगातार राजद से नाराज चल रही थी और जदयू के लिए काम करी थीं. इसके बाद आज राजद नेतृत्व ने तीनो को बाहर का रास्ता दिखा दिया है.

Post a Comment

0 Comments