समस्तीपुर पुलिस ने सीएसपी संचालक लूटकाण्ड का किया उद्भेदन, तीन अभियुक्तों को किया गिरफ्तार...



अमरदीप नारायण प्रसाद

समस्तीपुर : संवाददाता सम्मेलन में एसपी विकास वर्मन ने बताया कि इन अपराधियों ने 15 जुलाई को खानपुर थाना क्षेत्र के खतुआहा चौक के पास बैंक से पैसा निकासी कर लौट रहे तीन ग्राहक सेवा केंद्र संचालकों से अपराधियों ने 8 लाख 55 हजार रुपये लूट लिए थे।


एसपी ने बताया कि इस मामले में पीड़ित व्यक्तियों के द्वारा खानपुर थाना में अज्ञात लोगों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया था। इस घटना का उद्भेदन के लिए डीएसपी सदर प्रीतिश कुमार नेतृत्व में एक विशेष टीम गठित की गयी जिसमे खानपुर थाना सहित  वारिसनगर, कल्याणपुर, मुफ्फसिल, नगर थाना  और डीआईयू के द्वारा की गयी सुचना संकलन, तकनीकी अनुसंधान और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी की गयी। 
उन्होंने बताया कि इसी क्रम में मुखबिरों के द्वारा सुचना मिली कि वारिसनगर क्षेत्र के कुछ पुराने अपराधी की गतिविधि खानपुर थाना क्षेत्र में देखी गयी थी। इन कई बार मोटर साइकिल से भी भ्रमण करते देखा गया था। इसको लेकर वारिसनगर के पुराने अपराधियों पर नज़र राखी गयी जिसमे मनीष राय और अखिलेश राय की गतिविधि संदिग्ध पायी गयी।  इसके बाद  टीम ने उसके घर पर छापेमारी की जिसमे उसके घर लूट की रकम और लूट में प्रयुक्त  बाइक  भी बरामद किया गया। उसके पास से लूट की एक लाख 75 हज़ार रूपये बरामद हुआ। उसके बाद उससे सख्ती से पूछताछ की गयी तो उसने अपने बाकि साथियों के नाम बताये। जिसमे अखिलेश राय उर्फ़ अटल , विकास कुमार, राजा बाबू और जीतेन्द्र कुमार सहित अन्य अपराधकर्मियों के बारे में बताया। इस कांड में एक चौकीदार का बेटा भी शामिल है जिसने लाइनर की भूमिका निभाई थी। 
एसपी ने बताया कि इस मामले में लुटे गए 8 लाख 55 हजार रुपये में से 5 लाख 55 हजार रुपये और घटना में प्रयुक्त दो अपाचे बाइक सहित चार मोबाइल और  लूट के समय मनीष राय पहना शर्ट  भी बरामद हुआ है। साथ ही रूपये का बैग भी बरामद किया गया है। इस मामले  तीन अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है। शेष की गिरफ़्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।  गिरफ्तार सभी अभियुक्तों को जेल भेज दिया गया है।

Post a Comment

0 Comments