कोरोना से जदयू एमएलसी के पति बिंदी यादव की मौत, पटना के रूबन मेमोरियल अस्पताल में ली अंतिम सांस, गया जिला परिषद के अध्यक्ष रह चुके थे

PATNA : जदयू एमएलसी मनोरमा यादव के पति बिंदी यादव की कोरोना से मौत हो गई। गया में तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें पटना के रुबन मेमोरियल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। कोरोना से मरनेवाले बिंदी यादव तीसरे नेता हैं।


इससे पहले बीजेपी एमएलसी सुनील सिंह, दानापुर नगर परिषद के चेयरमैन रहे राजकिशोर यादव की पटना के एम्स में इलाज के दौरान मौत हो चुकी है। राजकिशोर आरजेडी के टिकट पर दानापुर विधानसभा से चुनाव भी लड़ा था, लेकिन किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया था। अब गुरूवार को पटना के रूबन अस्पताल में कोरोना से बिंदी यादव की मौत से सभी स्तब्ध हैं।

आपको बता दें कि सियासी रसूख के लिए 90 के दशक में उन्होंने जनता दल ;अब का राष्ट्रीय जनता दलद्ध से नाता जोड़ा था। फिर 2001 में वह गया जिला परिषद के अध्यक्ष चुने गए थे। 2005 में राजद से टिकट नहीं मिला तो निर्दलीय चुनाव लड़े, लेकिन हार का सामना करना पड़ा।

2010 में राजद ने टिकट तो दे दिया, लेकिन बिंदी की किस्मत ने साथ नहीं दिया। पैसों के बल पर सियासत में धाक जमाने वाले बिंदी आदित्य हत्याकांड में बेटे रॉकी यादव के साथ दोषी करार दिए गए थे। उस वक्त मनोरमा देवी को भी जदयू ने बाहर का रास्‍ता दिखा दिया गया था।

इसके पहले 2011 में भी बिंदी चार हजार कारतूस और एके-47 राइफल के साथ पुलिस के हत्थे चढ़े थे। मगर बाद में कानूनी दांवपेंच के सहारे बच निकले थे। यह सही है कि राजनीति में बिंदी को बड़ी सफलता नहीं मिली, लेकिन पत्नी मनोरमा को वह दो-दो बार एमएलसी बनवा चुके हैं। फिलहाल उनकी पत्नी जेडीयू की एमएलसी हैं।

Post a Comment

0 Comments