बेगूसराय में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या को देखते हुए जिला प्रशासन अलर्ट !




बेगूसराय-हरेराम दास: जिले में लगातार मिल रहे कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या को देखते लोगों में दहशत व्याप्त है।प्रशासन के लाख समझाने के बाद भी कुछ लोग समझने के लिए तैयार नहीं है। इससे संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। स्थिति को देखते हुए जिला प्रशासन के द्वारा लगातार लोगों को जागरुक एवं दंडित करने के बावजूद लोग मान नहीं रहे हैं.
इसी को देखते हुए सदर एसडीएम संजीव चौधरी के नेतृत्व में लगातार सड़कों पर नियम का उल्लंघन कर रहे लोगों को दंडित किया जा रहा है एवं उन्हें आगे से नियम ना तोड़ने की हिदायत दी जा रही है तो वहीं नगर थानाध्यक्ष अमरेंद्र कुमार झा ने सख्त रुख  अपनाते हुए एक दर्जन से भी अधिक दुकानदारों को हिरासत में लिया।
सदर एसडीएम संजीव चौधरी ने बताया जिला प्रशासन के द्वारा लॉकडाउन की अवधि में अभी यह कार्रवाई लगातार जारी रहेगी। वहीं जिला प्रशासन ने पूरे जिले में दोहरी कार्रवाई की एक तरफ जहां जिला प्रशासन ने सड़कों पर शक्ति दिखाई और बेवजह बिना मास्क के घूम रहे लोगों को आर्थिक दंड भी दिया तो वहीं दूसरी तरफ पुलिस ने तय समय सीमा के बाद दुकान खोलकर दुकानदारी कर रहे लोगों को हिरासत में लिया एवं उन पर मामला दर्ज कर जेल भेजने की तैयारी कर रही है ।
जिले के पीएचसी का किया गया निरीक्षण

जिले में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के बीच अब जिले वासियों को थोड़ी राहत मिलने की उम्मीद है । दरअसल आज से जिले के सभी प्रखंड स्तरीय पीएचसी में रैपिड टेस्ट किट के माध्यम से कोरोना की जांच शुरू कर दी गई है । इसी कड़ी में आज बेगूसराय के जिलाधिकारी अरविंद कुमार वर्मा ने बलिया अनुमंडलीय अस्पताल एवं सदर अस्पताल बेगूसराय का औचक निरीक्षण किया तथा रैपिड टेस्ट से जांच के संबंध में आवश्यक निर्देश भी दिए । जिलाधिकारी अरविंद कुमार वर्मा ने बताया कि तत्काल मंसूरचक पीएचसी को छोड़कर जिले के सभी पीएचसी में पचास पचास टेस्ट किट उपलब्ध करा दिए गए हैं जिससे कोरोना संक्रमण की तत्काल जांच संभव हो पाएगी । डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने बताया कि सदर अस्पताल में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए 30 अलग से बेड की व्यवस्था की गई है जिसमें 25 बेड में ऑक्सीजन सिलेंडर की सुविधा रहेगी साथ ही साथ अगले दो-तीन दिनों के अंदर बलिया पीएससी में एक सौ बेड की व्यवस्था करने का लक्ष्य रखा गया है ।

डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने लोगों से अपील की है कि ऐसे कोई भी मरीज जिन्हें साधारण बुखार या सर्दी जुकाम की शिकायत हो वह तुरंत अपने स्थानीय पीएचसी में जांच करा लें । यदि कोरोना संक्रमण की पुष्टि होती है तो उन्हें बेहतर इलाज के लिए आइसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा और यदि साधारण सर्दी जुकाम की शिकायत होगी तो उन्हें स्थानीय पीएचसी से ही दवा उपलब्ध कराकर वापस कर दिया जाएगा । दरअसल बेगूसराय में कोरोना मरीजों की तादाद में अत्यधिक वृद्धि हुई और अब तक संक्रमित मरीजों की संख्या लगभग 13 सौ के पास पहुंच चुकी है । अब तक 11 संक्रमित व्यक्तियों की मौत भी हो चुकी है । लेकिन जिला प्रशासन के द्वारा किए जा रहे इस व्यवस्था के बाद जांच की गति में तेजी आएगी और लोग बेहतर तरीके से अपनी देखरेख कर सकेंगे । डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने बताया कि ऐसे मरीज जिनकी स्थिति गंभीर होगी उन्हें दरभंगा मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए भेजा जाएगा।
कोविड-19 से संबंधित अध्ययन आंकड़े निम्न है : 
  1. कोरोनावायरस से संक्रमित व्यक्तियों की कुल संख्या- 1263.
  2. कुल एक्टिव मामलों की संख्या - 419.
  3. अब तक डिस्चार्ज किए गए व्यक्तियों की संख्या - 833.
  4. कोविड-19 संक्रमण से मरने वाले व्यक्तियों की संख्या -11.
  5. होम आइसोलेशन के लिए अनुमति दिए गए व्यक्तियों की संख्या- 260
  6. जांच हेतु भेजे गए कुल सैंपल की संख्या -13607
  7. रिपोर्ट प्राप्त हुए कुल सैंपल की संख्या -13470.
  8. नेगेटिव रिपोर्ट वाले सैंपल की संख्या -12207
  9. प्रतिक्षित (Awaited) रिपोर्ट की संख्या - 137.

Post a Comment

0 Comments