बारिश से ढाका अनुमंडलीय अस्पताल परिसर में भरा पानी



सिकरहना। पिछले कई दिनों से हो रही बारिश तथा शनिवार की रात्रि करीब 11 बजे से हो रही लगातार बारिश के कारण ढाका अनुमंडलीय अस्पताल परिसर में पानी भर गया है, जिससे जलजमाव की स्थिति हो गई है।

जलजमाव के कारण डॉक्टर, स्वास्थ्यकर्मी व मरीज पानी में प्रवेश कर अस्पताल में जा रहे है। अस्पताल परिसर से पानी निकलने का कोई उपाय नहीं है।पानी भरने के कारण डॉक्टर व स्वास्थ्यकर्मी अस्पताल में प्रवेश करने से कतरा रहे है की कहीं ऐसा न हो कि पानी में पैर फिसलने से गिर पड़े। वहीं बारिश से ढाका प्रखंड के निचले हिस्सों में सरेह जलमग्न हो गया है। पानी अधिक होने से धान की रोपनी भी प्रभावित हो रही है। इधर, ढाका फुलवरिया पथ में औरैया पूल पर पानी का दबाव बढ़ने लगा है। पिछले साल आयी बाढ़ में जहां सड़कें क्षतिग्रस्त हो गई थी वहां सड़कें ठीक ढंग से मरम्मत नहीं होने से टूटने का भी खतरा उत्पन्न हो गया है।

बोले लोग: जगजीत राम, ढाका लगातार बारिश होने से जलजमाव होना लाजिमी है। दिन प्रति दिन सड़कें ऊंची होती जा रही है। इस कारण सड़कों का पानी लोगों के घरों या कार्यालय में जमा हो जाता है। इससे परेशानी बढ़ती है। और लोगों को जलजमाव से सामना करना पड़ता है।हरेन्द्र यादव बड़हड़वा फतेमोहम्मद ने बताया कि पिछले कई दिनों से लगातार बारिश हो रही है।

बारिश से लोगों का घर से निकलना मुश्किल हो गया है। बारिश की यही रफ्तार रही तो बाढ़ आना निश्चित है। लोगों को बाढ़ से निपटने के लिए अभी से ही इसकी तैयारी करनी होगी। वहीं दीपक पटेल ढाका निवासी ने बताया कि बारिश के पूर्व नालों की सफाई नहीं होने से जलजमाव की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। बरसात शुरू होने पर सरकार को नालों की उड़ाही कराने की याद आती है। वहीं पचपकड़ी के दिलीप गुप्ता ने बताया कि बारिश से निचले हिस्सों में जलजमाव हो गया है। इसकी निकासी का कोई उपाय नहीं होने से लोगों को भारी परेशानी उठानी पड़ रही है। बारिश का असर गरीबों पर ज्यादा पड़ता है। इसके कारण गरीबों को इसको झेलना पड़ रहा है।

Post a Comment

0 Comments