बिहार के नालंदा में प्रवासियों ने हमला कर थानेदार का सिर फोड़ा, राइफल भी छीन ली

नालंदा: बिहार के नालंदा जिले में क्‍वारंटाइन सेंटर पर प्रवासियों ने जमकर बवाल किया है। कारण जानेंगे तो आप भी हैरान हो जाएंगे। प्रवासियों ने उन्‍हें समझाने के लिए गए थानेदार पर गुस्‍सा निकाला। आक्रोशित प्रवासियों ने थानेदार का सिर फोड़ दिया। उन पर हमला कर दिया। एक पुलिसकर्मी की भीड़ ने राइफल छीन ली। हालांकि आधे घंटे के बाद राइफल मिल गई। इस घटना के बाद से वहां पर हड़कंप मचा हुआ है। काफी संख्‍या में पुलिस पहुंच गई है।  

बताया जाता है कि बिंद प्रखण्ड के कथराही पंचायत के गुरुकुल विद्यापीठ क्वारंटाइन सेंटर में मंगलवार की देर रात 9.30 बजे प्रवासियों ने थानाध्यक्ष राकेश कुमार व पुलिस बल पर हमला कर दिया। इसमें थानाध्यक्ष का सिर फट गया। वहीं अन्य पुलिसकर्मी को भी चोट लगी है। इस दौरान एक पुलिस वाले की राइफल भी छीन ली गई, जो आधे घंटे बाद बरामद कर ली गई। किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। 


दरअसल, इस क्वारंटाइन सेंटर में 121 लोग रखे गए हैं। ये लोग खाने में रोटी नहीं, पूड़ी की मांग को लेकर खफा थे और हंगामा कर रहे थे। इनके समर्थन में बरहोग गांव के करीब 100 लोग क्वारंटाइन सेंटर के बाहर जमा हो गए थे। हंगामे की सूचना मिलने पर थानाध्यक्ष दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे, जिन पर सुनियोजित ढंग से बरहोग गांव वालों ने कुछ उपद्रवी प्रवासियों संग मिलकर हमला कर दिया। इसमें थानाध्यक्ष का सिर फट गया और कई पुलिसकर्मियों को चोट लगी है। देर रात डीएसपी इमरान परवेज भी दल-बल समेत मौके पर पहुंच गए हैं। अभी किसी की गिरफ्तारी की सूचना नहीं है। 

गौरलतलब है कि इन दिनों किसी न किसी सेंटर पर प्रवासी उपद्रव करते नजर आ रहे हैं। पिछले दिनों भी उत्‍तर बिहार के एक क्‍वारंटाइन सेंटर पर आक्रोशित प्रवासियों ने भोजन का बरतन फेंक दिया था। काफी हंगामा किया था। इसके अलावा बांका में भी क्‍वारंटाइन सेंटर पर पिछले दिनों हमला हुआ था। यहां तक लोगों ने सड़क जाम भी कर दिया था।

Post a Comment

0 Comments