पटना में दर्दनाक हादसा, गार्डर के नीचे दबने से तीन बच्चों की हुई मौत, सीएम नीतीश ने जताया शोक

पटना : राजधानी पटना के बेली रोड पर ललित भवन के पास बुधवार की रात को एक बड़ा हादसा हुआ है. लोहिया पथ चक्र निर्माण के तहत निर्माणाधीन ओवरब्रिज में लगने वाले गार्डर के नीचे दबने से तीन बच्चों की मौत हो गई है. इसमें करण 6 वर्ष, केशव कुमार यादव उर्फ किशु 12 वर्ष, साहिल 8 वर्ष शामिल हैं. घटना के संबंध में पुलिस ने बताया कि सड़क के किनारे ऊंची जमीन पर आठ-दस की संख्या में गार्डर रखा हुआ था . गार्डर पर पुनाइचाक रोड -नंबर 6 के कुछ बच्चे खेल रहे थे. इस दौरान गार्डर ऊंची जगह से उलट कर नीचे सड़क पर आ गिरा और उसी के साथ 3 बच्चे भी नीचे गिरकर गार्डर से दब गए. गार्डर से दबने के दौरान बच्चे चिल्लाने लगे. जिस पर मौके पर मौजूद पोकलेन का ड्राइवर पोकलेन लेकर गार्डर के पास पहुंचा और पोकलेन की मदद से भारी-भरकम गार्डर को हटाने लगा.


पटना में हुई इस घटना पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी दुख जताया है. मुख्यमंत्री ने बच्चों के परिजनों को 4-4 लाख की सहायता राशि देने का निर्देश दिया है. साथ ही में मुख्यमंत्री ने पथ निर्माण विभाग को इसकी समीक्षा करने तथा सुरक्षा नियमों को सुदृढ़ करने का निर्देश दिया गया है.


इस दौरान घटनास्थल से थोड़ी ही दूर पर मौजूद झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले लोग वहां पहुंचे और उन लोगों को लगा कि पोकलेन के ड्राइवर से ही गार्डर उनके बच्चों के ऊपर गिरा है. जिससे वह आक्रोशित होकर ड्राइवर पर ही टूट पड़े. इस दौरान पोकलेन के ड्राइवर रणधीर को बुरी तरह से मारा पीटा गया और पोकलेन के शीशा वगैरा तोड़कर छतिग्रस्त कर दिया गया. हंगामा कर रहे लोग सड़क के बीच धरने पर बैठ गए और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करने लगे. इस दौरान तत्काल शास्त्री नगर, सचिवालय, कोतवाली, एयरफोर्स, रूपसपुर, एसके पुरी समेत अन्य थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गए और घायल तीनों बच्चों को तत्काल पीएमसीएच में इलाज के लिए भेजा गया.


शास्त्री नगर के थाना प्रभारी विमलेंदु कुमार ने बताया कि इलाज के दौरान तीन बच्चों की मौत हो गई है. इस दुर्घटना के बाद सड़क के बीच बैठकर स्थानीय लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया और सड़क को जाम कर दिया. मौके पर पहुंची पुलिस ने लाठी चार्ज करके भीड़ को हटाया. इस दौरान एसपी सिटी, एसएसपी भी मौके पर पहुंचे थे. एहतियात के तौर पर दंगा नियंत्रण, आरएआफ के जवानों को भी पुलिस ने बुला लिया था. करीब 1 घंटे बाद मामला पूरी तरह से कंट्रोल हुआ. घटनास्थल पर भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. वहीं स्थानीय लोगों का कहना है कि पोकलेन का ड्राइवर शराब के नशे में था और गार्डर को उठाकर निर्माणाधीन ब्रिज के पास रख रहा था. इसी दौरान गटर स्लिप कर गया और वहां पर खेल रहे बच्चे दब गये. जिससे उनकी मौत हो गई है. हालांकि पुलिस ने इस बात से इनकार किया है. मामले की छानबीन की जा रही है.

Post a Comment

0 Comments