सीतामढ़ी में डूबने से दो बहनों समेत चार की मौत, जिले में मचा हाहाकार

SITAMARHI: सीतामढ़ी में सोमवार को दो अलग-अलग घटनाओं में डूबने से चार की मौत हो गई। पहली घटना सीतामढ़ी के बैरगनिया की है। लालबकेया नदी में डूबने से दो चचेरी बहनों की मौत हो गई। वहीं दूसरी घटना जिला अंतर्गत सुरसंड की है। यहां भी डूबने से दो किशोरियों की मौत हो गई। दोनाें घटनाएं नहाने के दौरान हुई।

दो चचेरी बहनों की मौत

लालबकेया नदी में नहाने के दौरान दो चचेरी बहनें डूब गईं जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई। आठ व छह साल की सबीना खातून व जिन्नत खातून बकरी लेकर नदी किनारे चराने गईं थीं। नदी में कुछ लड़कियों को नहाते हुए देखकर इन दोनों ने भी डुबकी लगाई। लेकिन, नियती को कुछ और ही मंजूर था। दोनों को बाहर निकालने पर दम तोड़ चुकी थीं। इजमुआ पंचायत के बिलारदेह गांव में इस घटना से कोहराम मच गया। दोनों चेचेरी बहनें थीं। सूचना मिलते ही पुलिस भी पहुंची।अंचलाधिकारी अमित कुमार, थानाध्यक्ष गौरीशंकर बैठा, अनि देवेंद्र कुमार एवं पंकज कुमार घटनास्थल पहुंचे। जायजा लिया व शवों को पोस्टमार्टम के लिए सीतामढ़ी सदर अस्पताल भेजवाया। दोनों बहनों की मौत से गांव में मातम पसरा हुआ है। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

सुरसंड में भी नहाने के दौरान डूबीं दो किशोरियां

शहर के वार्ड-11 में तालाब में स्नान करने के दौरान डूबने से दो किशोरियों की मौत हो गई। उनकी शिनाख्त सुरसंड नगर पंचायत वार्ड नंबर-11 निवासी गजेंद्र कापर की पुत्री सुधीरा कुमारी (16) व अरुण राउत की पुत्री रीमा कुमारी (14) के रूप में की गई है। आसपास के लोग जुटे और दोनों को तालाब से निकाल कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए। जहां चिकित्सा प्रभारी डॉ. रामकिशोर सिंह ने जांच के बाद मृत घोषित कर दिया। मौके पर थानाध्यक्ष भोला कुमार सिंह, अवर निरीक्षक जितेंद्र कुमार सिंह पहुंचे। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। नगर पंचायत अध्यक्ष ओमप्रकाश झा "राजू" उपाध्यक्ष कुंदन कुमार, वार्ड पार्षद पूनम देवी प्रतिनिधि नरेश वारिक, वार्ड प्रतिंनिधि नीलू राउत ,समाजसेवी शत्रुध्न राउत सहित अन्य पहुंचकर मृतक परिजनों को ढांढस बंधाया। अंचलाधिकारी संजय कुमार से मुआवजा देने की मांग की। सीओ ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलते ही स्वजनों को आपदा प्रबंधन से चार-चार लाख रुपये के चेक दिए जाएंगे।

Post a Comment

0 Comments