79 ट्रेनों से आज 1 लाख 25 हजार मजदूर पहुंचेंगे बिहार, महाराष्ट्र से सबसे अधिक गाड़ियां

पटना. लॉकडाउन 4 में दूसरे राज्यों से प्रवासी मजदूर लगातार बिहार आ रहे हैं. गुरुवार को भी प्रवासी मजदूरों को लेकर 79 ट्रेनें बिहार (Bihar Special Trains) आ रही हैं जिससे 1 लाख 25 हजार के करीब मजदूर बिहार के विभिन्न जिलों में पहुंचेंगे. सरकार के आंकड़े के हिसाब से अबतक ट्रेनों के जरिए 16 लाख के करीब मजदूर बिहार पहुंच चुके हैं और आज इसी कड़ी में 1 लाख 25 हजार मजदूर और जुट जाएंगे.

आज महाराष्ट्र से आएंगी सबसे अधिक 18 ट्रेनें

आज प्रवासी मज़दूरों को लेकर सबसे अधिक श्रमिक स्पेशल ट्रेनें महाराष्ट्र से आ रही है. गुरुवार को महाराष्ट्र से 18 ट्रेनें बिहार आ रही हैं, जिससे लगभग 30 हज़ार मज़दूर बिहार आएंगे. इसके अलावा पंजाब से मज़दूरों को लेकर 11 ट्रेनें बिहार आएंगी.


महीने के अंत तक 23 लाख मजदूर ट्रेनों से पहुंचेंगे बिहार

मजदूरों को लेकर अबतक 1150 ट्रेनें बिहार पहुंच चुकी हैं. इन ट्रेनों से 16 लाख के करीब मजदूर अबतक आ चुके हैं और सरकार का अनुमान है कि इस महीने के आखिर तक 23 लाख प्रवासी मजदूर बिहार पहुंचेंगे. इसके अलावा बसों, ट्रकों और अन्य साधनों से भी लाखों मजदूर बिहार आ चुके हैं. बाहर से आ रहे इन मजदूरों में से 12 लाख 6 हजार मजदूर क्वारेंटीन सेंटर में रह रहे हैं, वहीं काफ़ी संख्या मे बिहार आए मज़दूर अपनी क्वारेंटीन अवधि पूरा करके अपने अपने घर भी जा चुके हैं।

कोरोना पॉजिटिव के कुल मामलों में दो तिहाई मामले प्रवासी मजदूरों के

स्वास्थ्य विभाग की तरफ से ये जानकारी दी गई है की बिहार में अबतक 2072 प्रवासी मजदूर कोरोना पॉजिटिव मिले हैं जो बिहार में अबतक मिले कुल कोरोना पॉजिटिव मरीजों का दो तिहाई है, यानी बाहर से आ रहे प्रवासी मजदूरों के कारण ही बिहार में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ़ तेजी से बढ़ रहा है. बिहार में जिन कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौतें हुई है उनमें भी कई प्रवासी मजदूर ही हैं.

Post a Comment

0 Comments