-->

मेरी ब्लॉग सूची

दूसरे राज्यों से आ रहे यात्रियों का ट्रेन किराया देगी नीतीश सरकार, अलग से 500 रुपये भी देगी

दूसरे राज्यों से आ रहे यात्रियों का ट्रेन किराया देगी नीतीश सरकार, अलग से 500 रुपये भी देगी

नई दिल्ली: दूसरे राज्यों से अपने राज्य में लौट रहे लोगों से ट्रेन किराया वसूली को लेकर विवाद के बीच बिहार से बड़ी खबर आई है. बिहार की नीतीश सरकार ने एलान किया है कि वो सभी यात्रियों को टिकट के अलावा पांच सौ रुपये भी देगी. इससे पहले तेजस्वी यादव ने कहा था कि राष्ट्रीय जनता दल शुरुआती तौर पर बिहार सरकार को अपनी तरफ़ से 50 ट्रेनों का किराया देने को तैयार है.

तेजस्वी यादव ने ट्विटर पर लिखा कि ''राष्ट्रीय जनता दल शुरुआती तौर पर बिहार सरकार को अपनी तरफ़ से 50 ट्रेन देने को तैयार है. हम मज़दूरों की तरफ़ से इन 50 रेलगाड़ियों का किराया असमर्थ बिहार सरकार को देंगे. सरकार आगामी 5 दिनों में ट्रेनों का बंदोबस्त करें, पार्टी इसका किराया तुरंत सरकार के खाते में ट्रांसफ़र करेगी.''

तेजस्वी ने एक और ट्वीट किया, ''आदरणीय नीतीश कुमार जी, ग़रीब मज़दूरों की तरफ़ से 50 ट्रेनों का किराया राजद वहन करने के लिए एकदम तैयार है क्योंकि ड़बल इंजन सरकार सक्षम नहीं है. कृपया अब अविलंब प्रबन्ध करवाइए. सुशील मोदी जी- कुल जोड़ बता दीजिए, तुरंत चेक भिजवा दिया जाएगा. वैसे भी आपको खाता-बही देखने का शौक़ है.''
बता दें कि बिहार सरकार ने राज्य के सभी जिलों को सिर्फ दो जोन में बांटने का निर्णय लिया है. रविवार देर शाम बिहार सरकार के गृह विभाग की ओर से ये निर्देश जारी किया गया है. इस निर्देश के मुताबिक बिहार में कोई भी जिला ग्रीन जोन में नहीं होगा. राज्य के सभी जिलों को रेड जोन और ऑरेंज जोन में बांटा गया है.


गौरतलब है कि जिस तरह लगातार दूसरे राज्यों से मजदूरों, छात्रों और फंसे हुए लोगों को राज्य वापस बुलाने का फैसला लिया गया उसे देखते हुए बिहार सरकार ने राज्य में लॉकडाउन के नियम को और कड़ाई से लागू किया है. बिहार में पटना समेत 5 जिले रेड जोन में हैं. बाकी के 33 जिले ऑरेंज जोन में होंगे. भारत सरकार की ओर से जारी नई गाइडलाइन के मुताबिक इन इलाकों में छूट दी जाएगी.

0 Response to "दूसरे राज्यों से आ रहे यात्रियों का ट्रेन किराया देगी नीतीश सरकार, अलग से 500 रुपये भी देगी"

टिप्पणी पोस्ट करें