तेलंगाना से गया पहुंची श्रमिक स्पेशल ट्रेन से उतरे 1559 यात्री, 20 पाए गए कोरोना संदिग्ध

गया. दूसरे प्रदेशों में रहने वाले प्रवासी मजदूरों  का बिहार आना लगातार जारी है. इस सिलसिले में तेलंगाना  से रविवार को एक स्पेशल श्रमिक ट्रेन  गया जंक्शन पहुंची जिसमें बच्चों समेत कुछ 1559 महिला पुरुष यात्रियों की घर वापसी हुई है. ट्रेन से उतरने के बाद सभी की स्क्रीनिंग की गयी जिसमें 20 मजदूर संदिग्ध पाये गये. उनका सैंपल लेकर जांच के लिए पटना भेजा गया है और इन्हें अलग से क्‍वारंटाइन किया गया है.

संबंधित जिलों में भेजे गए मजदूर

इस ट्रेन में गया जिला के साथ ही समूचे बिहार के विभिन्न जिलों के यात्री आये थे, जिनकी स्क्रीनिंग के बाद उन्हें जिला प्रशासन ने बसों से संबंधित जिला में भेज दिया गया. जबकि गया जिला के यात्रियों को प्रखंड स्तरीय क्‍वारंटाइन सेंटर में भेजा गया है. बच्चों और महिलाओं के लिए क्‍वारंटाइन सेंटर पर विशेष इंतजाम किये गयें हैं. 

6 हजार से ज्यादा छात्र और मजदूर आ चुके हैं गया जंक्शन

दूसरे प्रदेश से बिहार आने वाले छात्रों एवं मजदूरों के लिए गया जंक्शन को भी प्वाइंट बनाया गया है जहां अभी तक पांच ट्रेनें आ चुकी हैं और कई अन्य स्पेशल ट्रेन आना बाकी हैं. सबसे पहले यहां 4 मई को कोटा से 994 छात्र-छात्राओं को लेकर स्पेशल ट्रेन आयी थी. उसके बाद 7 मई को हैदराबाद से 1250 मजदूर और अहमदाबाद से 1174 मजदूर को लेकर स्पेशल श्रमिक ट्रेन आयी थी. 9 मई को सूरत से 1343 मजदूरों को लेकर स्पेशल ट्रेन आयी थी, वहीं 10 मई को तेलंगाना से 1559 यात्री स्पेशल ट्रेन से आये हैं जिसमें पुरूष मजदूरों के साथ ही महिलाएं और उनके बच्चें भी शामिल हैं.

जांच में प्रवासी मजदूर पाये जा रहें हैं संदिग्ध

दूसरे प्रदेशों से आ रहे मजदूरों की स्टेशन पर ही स्क्रीनिग की जा रही है इसमें कई मजदूर संदिग्ध मिल रहें हैं. अभी तक गया जंक्शन पर उतरे लोगों में से 50 से ज्यादा मजदूर संदिग्ध पाये गए हैं जिनके सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे जा रहे हैं. इन संदिग्ध मजदूरों को अलग से क्‍वारंटाइन  किया जा रहा है ताकि संक्रमित पाये जाने पर किसी दूसरे में उसका फैलाव न हो सके.


Post a Comment

0 Comments