बिहार में एक दिन में सबसे ज्यादा 146 मरीज मिले, इनमें 4 पटना बीएमपी के; प्रदेश में आठवीं मौत

पटना. खगड़िया में कोरोना से हुई मौत के साथ बिहार में महामारी से मरने वालों की संख्या आठ हो गई है। वहीं जैसे-जैसे दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों का आगमन होता जा रहा है, वैसे ही कोरोना के मरीजों के आंकड़े में बढ़ोतरी हो रही है। राज्य में प्रशासनिक अधिकारी से लेकर पुलिसकर्मी तक कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं। नवादा में शनिवार को एक प्रशिक्षु डीएसपी सहित राज्य के 25 जिलों के कुल 146 पॉजिटिव पाए गए। कुला संख्या 1178 हो गई है।

पटना के बीएमपी के 5 जवान और 2 आम व्यक्ति पॉजिटिव मिले हैं। पटना में कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 105 हो गई है। जिन जिलों में संक्रमण के मामले मिले हैं उसमें मधुबनी के 20, बांका के 18, पूर्णिया के 17, नवादा, जमुई और शेखपुरा के 9-9, गोपालगंज के 8, बेगूसराय के 7, भोजपुर के 6, भागलपुर के 5, और औरंगाबाद के 4, कटिहार के 5, वैशाली, समस्तुपर और मुंगेर के 3-3,खगड़िया, कटिहार, मुजफ्फरपुर और सीवान के 2-2, शिवहर, जहानाबाद, कैमूर, लखीसराय, पूर्वी चंपारण और नालंदा के एक-एक मरीज हैं। अब तक 453 कोरोना संक्रमण को मात देने में सफल हुए हैं।


पटना में मरीजाें की तादाद हुई 105
14 माह की बच्ची व बीएमपी-14 के चार और जवानाें के पाॅजिटिव हाेने के बाद जिले में काेराेना मरीजाें की तादाद बढ़कर 105 हाे गई। अबतक बीएमपी के 26 जवान संक्रमित हाे चुके हैं। बीएमपी परिसर के बगल में खाजपुरा, जगदेवपथ के 26 लाेग काेराेना मरीज हुए थे। पटना जिले में करीब 50 फीसदी मरीज बीएमपी और खाजपुरा के हैं। 61 का इलाज चला रहा है, जबकि दाे की माैत हाे चुकी है। मरीजों के मामले में मुंगेर (125) के बाद पटना दूसरे नंबर पर है।

Post a Comment

0 Comments