-->

मेरी ब्लॉग सूची

खत्‍म हुआ अनाज तो महिला ने PMO से मांगी मदद, फ‍िर दौड़े-दौड़े आए अधिकारी

खत्‍म हुआ अनाज तो महिला ने PMO से मांगी मदद, फ‍िर दौड़े-दौड़े आए अधिकारी

BHAGALPUR: पीएम मोदी देश की जनता का कितना ख्याल रखते हैं ये अक्सर सामने आ जाता है। कभी तो वो रिक्शावाले की मदद करते हैं तो कभी बिहार की जीविका दीदियों के काम की सरहाना करते हैं, तो कभी किसी छात्र की उपलब्धियों पर उन्हें बधाई भी देते हैं। इस बार पीएम मोदी की तरफ से गरीब और भूख से तड़प एक परिवार को खाना दिया। उन्होंने पीएम मोदी को धन्यवाद कहा है

भागलपुर जिला अंतर्गत नाथनगर इलाके के नुरपूर गांव में सुजीत कुमार के परिवार के सामने लॉकडाउन के दौरान खाने का अनाज खत्म हो गया। उनके पास राशन कार्ड भी नहीं था। वे बढ़ई का काम करते हैं। रोज कमाने वाले और खाने वाले थे। लेकिन लॉकडाउन के कारण उनका काम बंद हो गया। वे खाने के इंतजाम के लिए लॉकडाउन के कारण बाहर भी नहीं जा सकते था। यह परिस्थिति उनकी पत्नी नेहा शर्मा भी देख रही थी। बच्चों की चिंता उन्हें सता रही थी। नेहा ने उम्मीद नहीं छोड़ी और गूगल से पीएमओ का नंबर सर्च कर निकाला। नंबर मिलते ही उन्होंने 18 अप्रैल को उस नंबर पर फोन कर मदद की गुहार लगाई।

रात करीब 1.00 बजे पीएमओ से जिला आपदा नियंत्रण कक्ष को तत्काल सहायता के लिए निर्देशित किया। पीएमओ का फोन आने की देरी थी, फिर क्या था महकमा सक्रिय हो गया। नाथनगर अंचलाधिकारी राजेश कुमार और ललमटिया चौकी इंचार्ज ओम प्रकाश सूखी राशन सामग्री लेकर नेहा के घर पहुंचे। परिवार को राशन मुहैया कराने के बाद सीओ ने अपना नंबर भी उन्हें दिया। ताकि दिक्कत होने पर वे फिर बात कर सके। सोमवार को भी उक्त दोनों पदाधिकारी ने उनके घर हालचाल लेकर कुछ सूखी सामग्री उपलब्ध कराई।

0 Response to "खत्‍म हुआ अनाज तो महिला ने PMO से मांगी मदद, फ‍िर दौड़े-दौड़े आए अधिकारी"

टिप्पणी पोस्ट करें