प्राथमिकी दर्ज करने में देरी करने पर महागामा थाना प्रभारी निलंबित, कांग्रेसी विधायक दीपिका पांडे पहुंची थी मामला दर्ज करवाने

GODDA: जिला के महागामा थाना प्रभारी बलराम रावत के FIR दर्ज करने में लापरवाही बरतने पर निलंबित किये गए . दरअसल, महागामा के कांग्रेसी विधायक दीपिका पांडे सिंह अर्णब गोस्वामी के खिलाफ महागामा थाने में मामला दर्ज कराने पहुंची थी. थाना प्रभारी ने एफआईआर दर्ज करने में देरी की जिसको लेकर पुलिस अधीक्षक ने कार्यवाही करते हुए अगले आदेश तक निलंबित कर दिया है. 
क्या है मामला
मिली जकनकारी के अनुसार रिपब्लिक भारत के एडिटर अर्णव गोस्वामी द्वारा पालघर में हुए दो साधु के हत्या पर सोनिया गांधी से पूछे गए सवाल को लेकर बीती रात्रि महागामा विधायक दीपिका पांडेय सिंह अर्णव गोस्वामी पर मामला दर्ज कराने गई थी। जहाँ मामला दर्ज करने में देरी होने पर वे वहीं बैठ गई. मामले की जानकारी पुलिस अधीक्षक के पास पहुँची तो उन्होंने महागामा थाना पहुंच कर मामला दर्ज कर थाना प्रभारी को निलंबित कर दिया.
वहीं दीपिका सिंह ने कहा कि थाने में जब एक विधायक को एफ आईआर दर्ज कराने में इतनी मशक्कत करनी पड़ती है तो आम जनता को कितनी कठिनाई करनी पड़ती होगी. वहीं जेएमएम के जिला संयुक्त सचिव ने पूरे जिले की विधि व्यबस्था पर सवाल खड़ा करते हुए पुलिस अधीक्षक को ही निलंबित करने की मांग हेमन्त सरकार से की है.

Post a Comment

0 Comments