पीडीएस दुकान की जांच करने गए अधिकारियों पर हमला, DSP के वाहन का शीशा टूटा; जवान जख्‍मी

कैमूर। बिहार के कैमूर में पीडीएस दुकान की जांच करने गए अधिकारियों पर मंगलवार को लोगों ने हमला कर दिया। इसमें एक पुलिसकर्मी सहित तीन गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। एसडीपीओ के वाहन का टूटा शीशा। पूरे मामले की जांच करायी जा रही है। मुखिया प्रतिनिधि समेत कई आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।

दरअसल, कैमूर जिले के रामगढ़ थाना क्षेत्र के छेवरी गांव में पीडीएस की सील की गई दो दुकानों की जांच के लिए पहुंचे प्रशासनिक अधिकारियों को ग्रामीणों ने घेर लिया। एसडीएम शिवकुमार राउत के मुखिया प्रतिनिधि हरेंद्र कुमार से एक दुकान को बहाल करने और दूसरी का लाइसेंस रद्द करने की बात कहते ही अनुसूचित जाति बस्ती के पुरुषों व महिलाओं ने घेरकर हमला कर दिया और लाठी-डंडा, बांस व ईंट-पत्थर से पथराव किया। ग्रामीण दोनों दुकानों के लाइसेंस रद करने की मांग कर रहे थे। भीड़ को हटाने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। पथराव में एक पुलिसकर्मी सुदर्शन ङ्क्षबद घायल हो गया। उसे गंभीर हालत में वाराणसी ट्रामा सेंटर रेफर किया गया। वहीं छेवरी के रामेश्वर राम और साहेब राम की पत्नी को गंभीर चोटें आई हैं। 
पथराव में एसडीपीओ रघुनाथ ङ्क्षसह सहित अन्य कई पुलिसकर्मी भी मामूली चोटिल हुए हैं। हमले में एसडीपीओ के वाहन का शीशा टूट गया है। मामला बिगड़ता देख अधिकारी दोनों दुकानों की लाइसेंस रद करने का लिखित पत्र देकर भागे। घटना में दो दर्जन से अधिक लोगों के विरुद्ध थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। सूचना पर एसपी दिलनवाज अहमद भी थाने पहुंचे और हमलावरों को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया। वहीं, रेफरल अस्पताल में इलाज कराने के लिए आए मुखिया प्रतिनिधि हरेंद्र कुमार सहित आठ लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। एसपी ने कहा, घटना में शामिल किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा। 

Post a Comment

0 Comments