कोटेदार व प्रशासन की मिलीभगत से गरीबों को नहीं मिल पा रहा राशन, लेकिन ब्लैक में बेच रहे हैं राशन माफिया।

रूपेश कुमार 
प्रेस रिपोर्टर

 नगर परिषद  क्षेत्र के  वार्ड नंबर 08 के कोटेदार पर दर्जनों लाभार्थियों ने राशन ब्लैक करने का आरोप लगाया। साथ ही इस मामले को लेकर कई बार डीएम को आवेदन भी दिया गया है। इसके बावजूद भी समस्या का समाधान अभी तक नहीं ।

वहीं  कंचन देवी ,पूनम देवी, अमीना खातून ,रंजन देवी, बेचनी देवी, जयमाला देवी, ललिता देवी, जानकी देवी, किरण देवी ,हदिसा खातून, गिनो देवी ,प्रकाश यादव, सुभाष यादव ,अनिल शर्मा, टुनटुन साह , प्रशांत कुमार सहित अन्य दर्जनों लोगों
के द्वारा कहा गया है कि आदर्श नगर वार्ड नंबर 8  के कोटेदार जिसका अनुज्ञाप्त संख्या 204/ 18 है । इन कोटेदार के द्वारा आज  गरीब लाभार्थी के साथ डरा धमका के राशन देने में कटौती कर रहा है। जहां अपने मनमानी तरीके से यहां के गरीबों को कम अनाज दिया जा रहा है। जैसे 5 यूनिट है,10 किलोग्राम गेहूं मिलना चाहिए, और 15 किलोग्राम चावल मिलना चाहिए, जिसमें की  13 किलोग्राम चावल मिलता है। प्रत्येक राशन कार्ड पर 2 किलो चावल काट लिया जाता है। जबकि इसका विरोध करने पर कोटेदार के द्वारा धमकाया जाता है कि राशन कार्ड को रद्द करवा देंगे। जहाँ कंप्लेन करना है, करो मुझे कोई दिक्कत नहीं है, प्रशासन भी अपना ही है।
लेकिन तुम लोगों भी अपने भविष्य के बारे में सोच लो आगे क्या होगा। जबकि  इसके बारे में स्थानीय लोगों के द्वारा कई बार जिला पदाधिकारी के पास शिकायत भी किया गया । लेकिन इस मामले पर कोई रिस्पांस नहीं लिया गया है।  इससे  पूर्व मे  कुछ लोगों के द्वारा शिकायत करने पर प्रशासन तक भी आये, अपने स्तर से जांच भी किए, लेकिन इसका कोई असर कोटेदार पर नहीं पड़ा ।
जिसके कारण लोगों को प्रशासन के लापरवाही से मजबूरन कम अनाज लेना पड़ता है।
वहीं वार्ड पार्षद के पुत्र दीपक कुमार ने
कहा कि इससे पूर्व में भी कई बार इसकी शिकायत की, लेकिन इस मामले मे कोई सुनवाई नहीं की गई है।और जिसका सबूत भी है ,वार्ड पार्षद के पास। जब कोटेदार से कम राशन व घटतौली की शिकायत करने पर वह मारपीट व गाली-गलौज पर उतारू हो जाता है। साथ ही राशन भी देने से मना कर देता है।
वहीं वार्ड के दर्जनों लाभार्थी   ने डीएम को आवेदन देकर  कोटेदार रोशन खातून के खिलाफ जांच कराकर कार्रवाई किए जाने की मांग की है।
एक तरफ लोकडॉन के महामारी को लेकर  भूखे मर रहे हैं गरीब लोग। दूसरी तरफ 
 कोटेदार अपने मुनाफा के लिए अनाज ब्लैक कर रहें हैं। जो कि वहीं वार्ड नंबर आठ के दर्जनों  लाभार्थियों के द्वारा रविवार को जहां कॉलेज चौक के किराना दुकान वाले चंदन कुमार  के हाथ बेचने का
आरोप लगाया गया है।
साथ ही  कोटे के चावल खरीददार  चंदन कुमार  ने कहा कि इससे पूर्व  कई बार दुकान पर जा के कोटेदार के द्वारा अनाज  लेने को कहा जाता था। जो कि आज कोटे का चावल पंद्रह रुपए किलोग्राम के भाव से खरीदकर दुकान पर ले जा रहे थे। जहां उन्हें वार्ड पार्षद सहित दर्जनों स्थानीय लोगों के द्वारा पकड़ लिया गया है।और इसके बारे में कई अधिकारी को भी सूचना दिए गए हैं।
जहां घटनास्थल पर  एमओ साहेब पहुंचे और अपने स्तर से जांच किए व जांच करने के बाद उन्होंने कहा इस मामले पर कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की जाएगी। यह गंभीर मामला नहीं है।
वहीं  वार्ड पार्षद माला देवी ने गरीब लोगों की समर्थन करते हुए उन्होंने कहा कि गरीबों को नहीं मिल पा रहा राशन, लेकिन ब्लैक में बेंच रहे राशन माफिया।
इस पर कानूनी कार्रवाई  नहीं किए जाने वाले अधिकारियों के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया जाएगा।
 राशन कार्डों में गड़बड़ी और राशन वितरण में धांधली के विरोध में वार्ड वासियों के समर्थन कर रहे हैं ,वार्ड पार्षद।
 वहीं अनिल शर्मा  ने
कहा कि  कोटेदार गरीबों को मिलने वाले राशन को ब्लैक में बेंच देते हैं।  जिसके कारण से गरीब लोगों को राशन नहीं मिल पा रहा है । साथ ही
प्रशासन  भी इन राशन माफियाओं पर तो कोई  कार्यवाई ही नहीं करते हैं।

वहीं प्रशांत कुमार ने बताया कि लाभार्थी के राशन कार्डों में  कोटेदार  के द्वारा  जानबूझकर गड़बड़ी कर देते है। राशन कार्ड धारकों को राशन न देने व चावल व गेंहू वितरण में लगातार धांधली हो रही है। कोटेदार अपने गोदाम से ही राशन को ब्लैक में बेंच दे रहे हैं।
इस समस्या को लेकर वार्ड पार्षद ने कहा यदि  इन राशन माफियाओं पर लगाम नहीं लगाएगा तो फिर आगे प्रशासन के खिलाफ आंदोलन किया जायेगा। साथ ही प्रशासन  के खिलाफ धरना  पर बैठने की चेतावनी भी दी है वार्ड पार्षद व स्थानीय लोगों ने।

Post a Comment

0 Comments