बैंक शाखाओं, ग्राहक सेवा केंद्रों एवं BCs के कार्य स्थलों पर सोशल डिस्टेंसिंग एवं अन्य सुरक्षात्मक उपाय सुनिश्चित कराने का जिलाधिकारी ने दिया निदेश।



अर्जुन कुमार/पश्चिमी चम्पारण

बेतिया स्वतः समाप्त नहीं होगी जन-धन योजना के तहत बैंक खातों में आयी सहायता राशि, कभी भी निकाल सकते हैं लाभार्थी।बैंक की शाखाओं, ग्राहक सेवा केंद्रों, BCs के कार्य स्थलों पर कई स्थानों में भीड़ एकत्रित होने तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने को जिलाधिकारी ने अत्यंत गंभीरता से लिया है।
जिलाधिकारी, श्री कुंदन कुमार ने कहा है कि लॉकडाउन का जिलेवासी अक्षरशः अनुपालन करें। कोरोना (कोविड-19) के संक्रमण से बचने हेतु एकमात्र उपाय सोशल डिस्टेंसिंग ही है। इसलिए सभी को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अत्यंत आवश्यक है।उन्होंने कहा कि जिलेवासी कहीं भी जाये चाहे वह बैंक हो, ग्राहक सेवा केंद्र हो, BCs का कार्य स्थल हो, दवा दुकान हो, फल-सब्जी या किराना दुकान हो, या फिर अन्य स्थल हो सभी जगह सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अनिवार्य रूप से करें।वहीं कुछ शरारती तत्वों द्वारा उड़ाई गयी किसी भी प्रकार की अफवाहों पर तनिक भी ध्यान नहीं देने की अपीलजिलाधिकारी द्वारा जिलेवासियों से की गई है। जिलाधिकारी ने कहा कि सरकार द्वारा जन-धन खातों में डीबीटी के माध्यम से भेजी गई सहायता राशि उन्हीं के खातों में ही रहेगी तथा लाभुक जब चाहे इसकी निकासी कर सकते हैं। यह राशि निकासी नहीं हो पाने की स्थिति में  लाभार्थियों के बैंक खातों में ही रहेगी, स्वतः समाप्त नहीं होगी।जिलाधिकारी द्वारा बैंक की शाखाओं, ग्राहक सेवा केंद्रों, BCs के कार्य स्थलों पर सोशल डिस्टेंस का पालन तथा अन्य सुरक्षात्मक उपाय सुनिश्चित कराने हेतु एलडीएम, सभी बैंकों के प्रबंधकों, सीएसपी प्रबंधकों सहित अन्य संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया है।

Post a Comment

0 Comments