पटना में 9 तब्लीगियों के पकड़े जाने से मची सनसनी, दिल्ली से लौटकर दे रहे थे मरकज का संदेश

पटना। इस वक्त की राजधानी पटना से बड़ी खबर आ रही है जहां बुधवार की रात दिल्ली में तब्लीगी मरकज में हुई जमात में शामिल होकर लौटे मोकामा में छिपे नौ तब्लीगियों के मिलने से सनसनी फैल गई। पुलिस ने ने सभी को मेडिकल जांच के बाद क्वारंटाइन सेंटर भेज दिया। पुलिस ने पहले मोहल्ले वालों की सूचना पर छह को मोकामा थाने के फारसी मोहल्ले से पकड़ा। इनसे पूछताछ के बाद अन्य तीन को हाथीदह के दरियापुर मोहल्ले से पकड़ा गया। सभी अपने घरों में छिपे हुए थे।

एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि ट्रैवल हिस्ट्री खंगाली जा रही है। पकड़े गए लोगों में मो. एजाज, मो. मासूम, मो. अली, मो. परवेज, मो. अकरम, मो. मुश्ताक, मो. शाहरुख, मो. असहद और मो. अरमान हैं। पुलिस को पूछताछ में सभी ने बताया कि सभी नौ लोग पिछले दिनों निजामुद्दीन में तब्लीगी मरकज में जमात में शामिल हुए थे। लॉकडाउन के पूर्व ही दिल्ली से लौटे हैं। इस दौरान बिहटा में रहकर मरकज का संदेश पहुंचाने के लिए मस्जिदों में सभाएं भी कीं।

पुलिस सूत्रों के अनुसार, ये नौ तब्लीगी फरवरी में ही मोकामा से निकले थे। ये दिल्ली गए और कुछ दिन बिहटा में भी रहे। एक अप्रैल को सभी मोकामा लौटे और घरों में छिप गए।

मोकामा थानाध्यक्ष राजनंदन शर्मा और हाथीदह थानाध्यक्ष रविरंजन सिंह ने बताया कि सभी की मोकामा रेफरल अस्पताल में मेडिकल टीम से प्रारंभिक जांच कराई गई है। स्टेशन मार्ग स्थित सीसीएम विद्यालय में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर में कड़ी सुरक्षा में रखा गया है। गुरुवार को गहन परीक्षण किया जाएगा। लोग और कहां-कहां गए, पुलिस इसकी पड़ताल कर रही है।

Post a Comment

0 Comments