-->

मेरी ब्लॉग सूची

क्वारंटाइन सेंटर मे रह रहे 40 प्रवासी श्रमिकों ने किया अनूठा कार्य, अपने मेहनत से बदल दी पूरे स्कूल की तस्वीर

क्वारंटाइन सेंटर मे रह रहे 40 प्रवासी श्रमिकों ने किया अनूठा कार्य, अपने मेहनत से बदल दी पूरे स्कूल की तस्वीर

पश्चिमी चंपारण: बगहा जिले के लक्ष्मीपुर रमपुरवा पंचायत के स्कूल में बने क्वारंटाइन सेंटर में 40 प्रवासी मजदूरों ने एक अनूठा उदाहरण पेश किया है। क्वारंटाइन में रह रहे श्रमिकों ने लक्ष्मीपुर रमपुरवा पंचायत के राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय की सूरत ही बदल डाली है। 

क्वारंटाइन में खाली समय का किया सदुपयोग
क्वारंटाइन में रह रहे लोगों ने खाली समय का सदुपयोग करते हुए स्कूल की साफ-सफाई की। साथ ही स्कूल के भवन, कमरों के साथ चाहदीवारी की रंगरोगन किया है। खेल मैदान का भी सौंदर्यीकरण कर और बागवानी से सजा कर एक सुंदर रूप दिया है।

सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर बदली तस्वीर
सबसे सुखद बात यह रही कि विद्यालय का सौंदर्यीकरण करने के दौरान प्रवासी श्रमिकों ने सोशल डिस्टेंसिंग का बखूबी पालन किया है।

श्रमिकों के कार्यों की हो रही प्रशंसा
विद्यालय भवन में बने क्वारंटाइन सेंटर के श्रमिकों द्वारा किये इन कार्यों की चर्चा पूरे पंचायत में हो रही है। स्थानीय ग्रामीण प्रवासी श्रमिकों के इस अभूतपूर्व कार्यों से काफी ख़ुशी जाहिर कर रहे हैं। वहीं इसकी जानकारी मिलने के बाद जिला प्रशासन भी उनके सरहनीय कार्यों की काफ़ी प्रशंसा कर रहा है।

0 Response to "क्वारंटाइन सेंटर मे रह रहे 40 प्रवासी श्रमिकों ने किया अनूठा कार्य, अपने मेहनत से बदल दी पूरे स्कूल की तस्वीर"

टिप्पणी पोस्ट करें