लॉक डाउन के कारण 11 मजदूर मुगल सराय से समस्तीपुर आये पैदल,नौगछिया जाना है,सभी का सदर में जांच के लिए भेजा गया।



अमरदीप नारायण प्रसाद

बिहार के समस्तीपुर में लगातार बिहार से बाहर से आने वाले मजदूरों को लॉक डाउन में कोई सवारी नही मिल रही है तो इस हालात में लाख मुसीबत झेल कर भी आदमी साहस से रिक्शा,साइकिल , ठेला ,और मंगलवार को 11 मजबूर मजदूर पैदल ही मुगल सराय से समस्तीपुर पहुच गया और जब मीडिया को इसकी नजर पड़ी रात्रि 10 बजे में  सड़क से सभी पैदल नौगछिया के लिए निकले तो सभी को जांच के लिए समस्तीपुर सदर अस्तपताल में जांच के लिए ले गया और जांच काउंटर पर इस जांच के लिए भी दो रुपए लिया जा रहा था तभी Ds से बात कर सबको पुरजा का चार्ज फ्री करवाया गया जांच के बाद इसकी रहने के व्यवस्था के लिए Sdo को फोन किया फोन नही उठाया गया,Ds को इसकी रहने और खाने के लिए बोल दिया गया तब उन्होंने सभी व्यवस्था करने की भरोसा दिए तब मीडिया वाले 11 बजे वापस गए ये
मीडिया Pni न्यूज़ एजेंसी के थे।जो अपनी मानवता और फर्ज हर रोज अपने न्यूज़ के साथ साथ लोगो की मदद भी करते है इसी तरह पिछले दिनों दिल्ली से आये 17 लोगो को मुसरी घरारी से प्रसासन के मदद से समस्तीपुर सदर अस्तपताल में भर्ती करवाया था।और एक रोज रिक्शा से आये पिता पुत्र को सोने की व्यवस्था कराया मुसरीघरारी में ही और पेपर जांच की गई तो पता चला उसकी जांच पहले हो चुकी थी।
रात्रि में एक बात गौर किया गया इस महामारी में पूरी दुनिया संकट में है लेकिन रात में अधिकारी और कर्मचारी मानवता से काम करने के बजाय इस तरह की मामला को गम्भीरता से नही लेते है और इसी तरह हल्की जांच करके छोर दिया जाता है।

Post a Comment

0 Comments