Corona ground report bihar : एक ओर पुलिस चटका रही है लाठियां , दूसरी ओर बाजार में चल रहा है कालाबाजारी का खेल

पटना । पूरे देश में आज से 14 अप्रैल तक लॉकडाउन लागू कर दिया गया है और इस दौरान लोगों से घर पर ही रहने की अपील की जा रही है। बिहार में लॉकडाउन के तीसरे दिन अब पुलिस सड़क पर बेवजह निकलने वालों से काफी सख्ती से निपट रही है। वहीं कई जगहों से अनाज और सब्जियों की कालाबाजारी की भी सूचना मिल रही है। उनसब पर भी सख्त कार्रवाई की जा रही है। बिहार में परदेस से आने वाले घरों पर पहुंच रही है स्वास्थ्य विभाग की टीम, ऐसे परिवारों को चिन्हित कर किया जा रहा है जागरुक।
इधर, पुलिस ने सहरसा में दो ट्रकों को सीज किया है। इनमें आलू और प्याज लदे थे। पुलिस ने कालाबाजारी के शक में यह कार्रवाई की। पटना और मुजफ्फरपुर में प्याज की कीमतों में खासा उछाल देखा जा रहा है। पटना में एक किलोग्राम प्याज के लिए 50-60 रुपए तक वसूला जा रहा है तो वहीं मुजफ्फरपुर में 70-80 रुपये किलो बिक रहा है प्याज।खगड़िया जिले में पीएम की ओर से राष्ट्र के नाम संबोधन के बाद बुधवार को एनएच 107 पर वाहनों का परिचालन लगभग बंद ही है। जरुरी वाहनों का ही परिचालन हो रहा है। आलू-प्याज खरीददारी को लेकर होड़ लगी हुई है। इसको लेकर आलू-प्याज के दाम में काफी उछाल आ गया है। जिसके बाद खगड़िया में कालाबाजारी के खिलाफ प्रशासन का अभियान तेज हो गया है और खाद्य पदार्थों की कालाबाजारी के खिलाफ प्रशासन की छापेमारी जारी है। अलग अलग ठिकानों पर पुलिस की रेड हो रही है। सरकार कोरोना के खतरे से उत्पन्न स्थिति में तमाम आवश्यक वस्तुओं की बाजार में उपलब्धता पर लगातार नजर बनाए हुए है और सभी राज्य सरकारों के संपर्क में है ताकि कहीं भी किसी चीज की किल्लत न हो। सभी उत्पादकों और व्यापारियों से भी अपील है कि  इस घड़ी में मुनाफाखोरी से बचें। वहीं इस बीच केंद्रीय खाद्य व आपूर्ति मंत्री रामविलास पासवान ने भी ट्वीट कर कहा है कि सरकार कोरोना के खतरे से उत्पन्न स्थिति में तमाम आवश्यक वस्तुओं की बाजार में उपलब्धता पर लगातार नजर बनाए हुए है और सभी राज्य सरकारों के संपर्क में है ताकि कहीं भी किसी चीज की किल्लत न हो। सभी उत्पादकों और व्यापारियों से भी अपील है कि इस घड़ी में मुनाफाखोरी से बचें।

लॉकडाउन में जानिये बिहार के जिलों का हाल....
-मधु्बनी के  झंझारपुर में लॉकडाउन के बाद भी आज सुबह हाट लगी और वहां सैकड़ों की संख्या में लोग खरीदारी को उमड़ पड़े।
-नालंदा जिले में कई जगहों पर लॉकडाउन नहीं मानने वालों पर पुलिस ने जमकर लाठियां बरसाईं और बेवजह घूमने वालों को खदेड़ दिया।
-किशनगंज में लॉकडाउन का असर दिख रहा है। बाजार में सन्नाटा पसरा है। हालांकि सब्जी, किराना व दवा दुकानों पर सुबह से भीड़ लगी रही। भीड़ जमा होने पर पुलिस प्रशासन सख्ती भी बरत रही है।
अररिया जिले में लॉक डाउन को लेकर सड़के सूनी है । किराना की दुकानें खुली हुई है। पुलिस के जवान चौक चौराहे पर तैनात किए गए है। सुबह लॉक बाइक से तफरी करने निकले एक दर्जन से अधिक बाइक को जब्‍त की गई। जिला परिवहन पदाधिकारी, एसडीओ व डीएसपी के साथ साथ ग्रामीण क्षेत्र में थानाध्‍यक्ष माइकिंग के जरिए लोगों को घरों से नहीं निकलने का अनुरोध कर रहे हैं।  
-रक्सौल  लॉक डाउन के दौरान भारत-नेपाल  मैत्री पुल पर यातायात ठप।
-कटिहार जिले में लाक डाउन का प्रभावी असर है। सुबह में राशन व सब्जी आदि खरीदने को लेकर लोगों की कुछ आवाजाही सडक पर जरूर दिखी, लेकिन दिन चढने के साथ सडकों पर सन्नाटा बढता गया। कुछ स्थानों पर पुलिस ने भी सख्ती दिखाई। प्रशासनिक अधिकारी भी लगातार स्थिति का जायजा लेते रहे।
-बिहार में कालाबाजारी शुरु, मुजफ्फरपुर में प्रशासन के खिलाफ सड़क पर उतरे लोग
-बक्सर में  23 लोगों को पुलिस ने पहुंचाया अस्पताल, हनुमानगंज के लोगों ने पुलिस को दी थी सूचना, पश्चिम बंगाल से मोतिहारी और बेतिया लौट रहे थे सभी लोग
समस्तीपुर में छोड़ेंगे ना हम तेरा साथ...
कोरोना वायरस की आशंका के बीच पूरे देश में लॉकडाउन है। समस्तीपुर में भी यही हाल है। गाड़ियां बंद हैं। दूर-दराज के क्षेत्र में आने-जाने का संसाधन भी सीमित। कहां जाएं, क्या करें। वारिसनगर प्रखंड की हांसा पंचायत में एक महिला की तबीयत खराब हो गई तो स्वजन को बड़ी चिंता हुई। कहीं कोई वाहन नहीं मिला। एंबुलेंस सेवा भी समय पर उपलब्ध नहीं हो सकी। जब कोई उपाय नहीं सूझा तो पत्नी को ठेले पर रखकर निकल पड़े समस्तीपुर। साथ में बेटा भी शामिल हुआ।
-मोतिहारी में लॉक डाउन का उल्लंघन करने वाले लोगों को पुलिस निरीक्षक ने खदेड़ दिया। डर से भागे लोग।
-बाँका में लॉकडाउन  असरदार रहा। सड़कें सुनसान है। दुकानें बंद है। एसडीओ मनोज चौधरी ने 13 रुपये किलो के हिसाब से आलू बिक्री कराया। दुकानों में रेट चार्ट के अनुसार सामान बेचने का आदेश दिया है।

Post a Comment

0 Comments