-->

मेरी ब्लॉग सूची

पूर्व CJI रंजन गोगोई ने राज्यसभा का मनोनयन स्वीकारते हुए कहा- बाद में बताऊंगा मैंने क्यों स्वीकारा

पूर्व CJI रंजन गोगोई ने राज्यसभा का मनोनयन स्वीकारते हुए कहा- बाद में बताऊंगा मैंने क्यों स्वीकारा

नई दिल्ली। भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने राज्यसभा मनोनयन को स्वीकार करते हुए कहा है कि मुझे पहले शपथ लेने दीजिए। इसके बाद मैं विस्तार से मीडिया से बात करुंगा कि आखिर मैंने ऐसा क्यों किया और मैं राज्यसभा क्यों जा रहा हूं।

आपको बताते जाए कि कांग्रेस सहित कई राजनीतिक दलों ने जस्टिस गोगोई के मनोनयन पर सवाल उठाए थे। उनका कहना था कि उन्हें इसे स्वीकार करने से मना कर देना चाहिए क्योंकि इससे न्यायापालिका की निष्पक्षता पर प्रभाव पड़ेगा। वहीं कुछ नेताओं ने उन्हें उनके पुराने बयान याद दिलाते हुए इस मनोनयन को अस्वीकार करने तक की सलाह दे दी थी।

यहां जानें , कौन हैं जस्टिस रंजन गोगोई...
जस्टिस रंजन गोगोई का जन्म 18 नवंबर 1954 को हुआ। वह असम के पूर्व मुख्यमंत्री केशव चंद्र गोगोई के पुत्र हैं। रंजन गोगोई का जन्म 18 नवंबर 1954 को हुआ है। उन्होंने गुवाहाटी हाई कोर्ट से वकालत की शुरुआत की थी। 28 फरवरी 2001 को वह गुवाहाटी हाई कोर्ट में स्थायी जज नियुक्त हुए। वे 12 फरवरी 2011 में पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश बने। 23 अप्रेल 2012 को वह सुप्रीम कोर्ट के जज बने और 17 नवंबर 2019 को इस पद से सेवानिवृत्त हुए। भारत के पूर्वोत्तर राज्य से इस शीर्ष पद पर पहुंचने वाले वह पहले जस्टिस थे।

0 Response to "पूर्व CJI रंजन गोगोई ने राज्यसभा का मनोनयन स्वीकारते हुए कहा- बाद में बताऊंगा मैंने क्यों स्वीकारा"

एक टिप्पणी भेजें