निर्भया के दोषियों के सभी दांव समाप्त, शुक्रवार को सुबह साढ़े पांच बजे दी जाएगी फांसी, तिहाड़ जेल में तैयारी पूरी, फांसीघर में हुआ ट्रायल

DELHI : निर्भया से दरिंदगी करनेवाले बिहार के औरंगाबाद निवासी अक्षय ठाकुर समेत चारों दोषियों को 20 मार्च की सुबह साढ़े पांच बजे फांसी दी जाएगी। चारों ने बचने के लिए सभी दांव अपनाए, लेकिन कहीं से भी उन्हें राहत नहीं मिली। अंत-अंत में बिहार के औरंगाबाद निवासी अक्षय ठाकुर की पत्नी ने तलाक की अर्जी की दाखिल की थी और कहा था कि वह विधवा नहीं होना चाहती, इसलिए पहले उसका तलाक कराया जाए, उसके बाद आगे की कार्रवाई हो। हालांकि उसका यह दांव भी काम ना आया। अब 20 मार्च को फांसी की तैयारी पूरी कर ली गई है। जल्लाद पवन ने गुरूवार को भी दोषियों के के वजन के बराबर चार पुतलों को फांसी पर लटकाया और तैयारी मुकम्मल की ताकि किसी प्रकार की परेशानी ना झेलनी पड़े। 
निर्भया गैंगरेप और मर्डर केस के चारों दोषियों अब 20 मार्च यानि शुक्रवार की सुबह साढ़े पांच बजे तिहाड़ जेल में फांसी दी जाएगी। जेल सूत्रों की मानें तो फांसी से पहले चारो को उनकी ही सेल में स्नान कराया जाएगा। चारों को फांसी देने के बाद जेल नंबर तीन को दूसरे कैदियों के लिए थोड़ा देरी से खोला जाएगा। फांसी की सुबह जेल अधिकारी, जेल स्टाफ और इलाके के एसडीएम समय से पहले ही तीन नंबर जेल पहुंचेंगे। एसडीएम का इशारा मिलने के बाद जल्लाद चारों को फांसी देगा।

Post a Comment

0 Comments