खगड़िया में फिर दुस्साहसिक वारदात, अपराधियों ने पिता-पुत्र को भूना, ट्रिपल मर्डर के आरोपी विनोद यादव ने ही दिया वारदात को अंजाम

KHAGDIA : खगड़िया के मानसी थाना इलाका का पूर्वी ठाठा गांव मंगलवार की रात एक बार फिर गोलियां की तड़तड़हाट से दहल उठा। ट्रिपल मर्डर के आरोपी विनोद यादव ने ही इस वारदात को भी अंजाम दिया और पिता-पुत्र को गोलियों से भून डाला। इससे पहले भी उसने दो पूर्व मुखिया समेत तीन लोगों की हत्या इसी गांव में कर दी थी। इसके बाद आज रात फिर पिता-पुत्र की गोली मारकर हत्या कर दी।
विनोद यादव ने घटना को तब अंजाम दिया जब राजेन्द्र यादव और उनके बेटे टिंकू यादव अपने घर पर थे। इसी दौरान चार की संख्या में हथियारबंद बदमाशों ने पिता-पुत्र पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। कई गोलियां लगने से पिता-पुत्र की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। वारदात को अंजाम देने के बाद सभी अपराधी फरार हो गए। इस दोहरे हत्याकांड को भी विनोद यादव ने ही अपने गुर्गों के सथ अंजाम दिया है। राजेन्द्र यादव और रिंकू यादव पूर्वी ठाठा पंचायत के पूर्व सरपंच भरत यादव के रिश्तेदार थे। 
घटना के बाद से गांव और उसके आसपास के इलाकों में हड़कंप मच गया है। अब लोग सवाल उठा रहे हैं कि आखिर विनोद यादव लगातार हत्या की वारदात को ंअंजाम दे रहा है, लेकिन उसकी तिगरफ्तारी क्यों नहीं हो पा रही है। आपको बता दें कि पिछले महीने आठ फरवरी को पूर्वी ठाठा गांव में दो पूर्व मुखिया समेत तीन लोगों की विनोद यादव ने हत्या कर दी थी। पूर्व मुखिया बृजनंदन यादव और सत्तो यादव हत्याकांड का मुख्य आरोपी विनोद यादव ही है जो अभी भी फरार है। परिजनों का कहना है कि पिता और पुत्र की हत्या भी आज विनोद यादव ने ही की है।
विनोद यादव लगातार इस इलाके में आतंक मचाए हुए है, लेकिन पुलिस अबतक उसे गिरफ्तार नहीं कर सकी है। आठ फरवरी को भी उसने पूर्वी ठाठा गांव में ही तीन लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी थी, जिसमें दो पूर्व मुखिया शामिल थे। अब सरपंच के रिश्तेदार पिता-पुत्र की हत्या कर विनोद यादव ने पूरे इलाके में दहशत फैला दी है।

Post a Comment

0 Comments