लॉकडाउन के चौथे दिन भी सड़कों पर पसरा रहा सन्नाटा।

MADHEPURA: (रूपेश कुमार) जिला मुख्यालय स्थित शहर के विभिन्न चौक- चौराहे पर बृहस्पतिवार को भी लॉकडाउन का असर जिलेभर में दिखा गया। इस दौरान पुलिस ने भी सख्ती दिखाई। कॉलेज चौक, पुरानी बाजार, मस्जिद चौक, पानी टंकी चौक , थाना चौक, सुभाष चौक, पूर्णिया गोला, जयपाल पट्टी चौक ,बस स्टैंड  सहित कई जगहों के चौक -चौराहे पर  पुलिस की तैनाती की गई थी। जहां  घर से निकले हुए लोगों को रोका जा रहा था। साथ ही बेवजह घर से बाहर  निकलने पर पैदल चलने वाले लोगों को पुलिस के द्वारा कान पकड़ के उठक बैठक करवाते हुए देखा गया। साथ ही वाहन चलाने  वाले  चालकों से जुर्माना वसूल किया गया। 

सभी चौक- चौराहे पर ड्यूटी पर तैनात पुलिस एवं कमांडो टीम के द्वारा चार पहिया एवं दोपहिया  वाहन लेकर घूमने वालों पर भी रोक लगाया गया।
वहीं  सदर थानाध्यक्ष सुरेश प्रसाद सिंह ने बताया कि सरकार द्वारा लॉकडाउन की घोषणा का आमलोगों द्वारा अनुपालन नहीं करने पर पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर बेवजह घूमने वालों के खिलाफ जगह- जगह पर तैनात पुलिस टीम के द्वारा कार्यवाई शुरू कर दिया गया है। इस बाबत
 दर्जनों वाहनों को जब्त कर जुर्माना वसूला गया है। साथ ही निर्देश दिया गया कि दोबारा पकड़े जाने पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी।
बाजार मे लॉकडाउन के चौथे दिन  बृहस्पतिवार को सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा ।
 पुलिस प्रशासन द्वारा सड़कों पर लगातार अभियान चलाया जा रहा है।
 भारत सरकार द्वारा लॉकडाउन को प्रभावी तरीके से लागू करने को लेकर प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद दिखे। वहीं सभी खाद्य सामग्री वाले एवं दवा दुकानों में कालाबाजारी कर अवैध रूप से रोजमर्रा की सामग्री में अधिक राशि वसूल रहे छोटे बड़े दुकानों पर प्रशासनिक पदाधिकारियों ने शिकंजा कस दिया। प्रशासन के निर्देश पर शहर एवं प्रखंड
के बाजार सहित अन्य जगह पर  भी राशन, दवा, सब्जी, दूध की दुकानो पर पहुंचकर दुकानदारों को उचित कीमत लेने का नोटिस देते हुए इन सभी दुकानदार अपने-अपने दुकान के आगे सभी समान का मूल्य तालिका की लिस्ट टांगने का भी निर्देश दिया । कहा कि अगर किसी भी दुकानदारो द्वारा ग्राहकों से अधिक कीमत वसूल किये जाने की शिकायत मिलने पर उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करते हुए दुकान को सील कर दिया जाएगा ।
मालूम हो कि एक तो कोरोना वायरस को लेकर पूरा जिला भयभीत और सहमा हुआ है। वहीं दूसरी ओर बाजार सहित अन्य जगहों चौक- चौराहे के अलावे गली मोहल्ले के दुकानदारों भी लोगों की मजबूरी का फायदा उठा कर मुनाफा कमाने में लगे हुए है।


लॉकडाउन की घोषणा के बाद से अधिकांश लोग अपने घरों में दैनिक उपयोग में खाने-पीने का सामान इकट्ठा करने में लग गए है। जिसे देखते हुए साग सब्जी, दूध, राशन बेचने वाले व्यापारी ने सामान के दाम में बेतहाशा वृद्धि कर दी है। लोगों ने बताया कि लॉकडाउन से पहले बाजार में प्याज 20 रुपए प्रति किलो बिक रहा था, अब 30 से 35 रुपए, आलू 8 से 10  रुपए प्रति किलो अब 20 से 25 रुपए किलो, चीनी 36 रुपए प्रति किलो अब 40 से 44 रुपए, दूध 40 से 42 रुपए, अब 45 से 50 रुपए प्रति,  सरसों तेल 100 से 110 रूपए अब120 से 130 रुपए प्रति किलो दुकानदारों द्वारा बेखौफ होकर बेचा जा रहा है।
 वहीं दुकानदारों द्वारा उचित मूल्य से अधिक कीमत लेने पर लोगों ने जिला प्रशासन से ऐसे दुकानदारों के खिलाफ कार्यवाई करने एवं कालाबाजारी पर  रोक लगाने की मांग की है।

Post a Comment

0 Comments