-->

मेरी ब्लॉग सूची

विधानसभा में कोरोना वायरस को लेकर बंटे मास्क, सीएम नीतीश कुमार ने जताई आपत्ति, कहा- बेवजह पैनिक क्रिएट न करें

विधानसभा में कोरोना वायरस को लेकर बंटे मास्क, सीएम नीतीश कुमार ने जताई आपत्ति, कहा- बेवजह पैनिक क्रिएट न करें

PATNA: कोरोना वायरस को लेकर विधान सभा में मास्क बांटे जाने पर सीएम नीतीश कुमार ने आपत्ति जताई है. सीएम ने मास्क बांटने वालों की क्लास लगाई और विधान सभा अध्यक्ष से भी इस मुद्दे पर बात की. सीएम नीतीश कुमार ने विधान सभा कर्मचारियों को निर्देश देते हुए कहा कि कोरोना को लेकर बेवजह पैनिक नहीं क्रिएट न करें.
दरअसल सोमवार को विधान सभा की कार्यवाही शुरू होने के पहले विधान पार्षद राम चंद्र भारती स्वास्थ्य विभाग के कुछ कर्मचारियों और डॉक्टरों के साथ विधायकों और विधान सभा के कर्मचारियों और मीडिया कर्मियों को मास्क बांट रहे थे. मास्क लेने के लिए विधानसभा परिसर में थोड़ी देर के लिए अफरातफरी का माहौल भी हो गया. 
जैसे ही सीएम नीतीश कुमार विधान सभा पहुंचे, उन्होंने लोगों को मास्क लगाए देखा. सीएम आग बबूला हो गए और मास्क बांटने वाले राम चंद्र भारती की जम कर क्लास लगा दी. स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय को निर्देश भी दिया कि वे देखें कि लोगों के बीच पैनिक क्रिएट ना हो. सीएम ने कहा कि जिन्हें सर्दी खांसी या अन्य कोई बीमारी है सिर्फ वे ही मास्क का प्रयोग करें. जो स्वस्थ हैं उन्हें मास्क की कोई जरूरत नहीं है.
उन्होंने निर्देश दिया कि कोरोना को लेकर लगी धारा 144 खत्म किया जाए. बता दें कि बिहार के कई जिलों के डीएम ने कोरोना वायरस को लेकर धारा 144 लगा दी थी. धारा 144 हटाने के संबद्ध में सीएम ने कहा कि लोगों को जागरुक करने की जरूरत है न कि डराने की.
मास्क को लेकर नीतीश कुमार ने लोगों को हाल की एक कहानी सुनाई. उन्होंने बताया कि हाल में एक हवाई यात्रा के दौरान उन्होंने कई यात्रियों के साथ ही एअर होस्टेस को भी मास्क पहने देखा. सीएम ने कहा कि उन्होंने सभी को समझाया कि वे लोग जो स्वस्थ हैं उन्हें मास्क की कोई जरूरत नहीं है. सीएम के समझाने के बाद सभी ने मास्क हटा

0 Response to "विधानसभा में कोरोना वायरस को लेकर बंटे मास्क, सीएम नीतीश कुमार ने जताई आपत्ति, कहा- बेवजह पैनिक क्रिएट न करें"

टिप्पणी पोस्ट करें