दुनिया में तबाही मचा रहा है कोरोना वायरस .

दुनिया में तबाही मचा रहा है कोरोना वायरस .

रिपोर्ट रणवीर कुमार गुप्ता (संगम विहार) दिल्ली
यह महामारी बीमारी चाइना से शुरू हुआ है और इसका पूरा असर इटली में देखने को मिल रहा है इटली सबसे अधिक प्रभावित है। माना जा रहा है कि इटली ने अपने आत्मसमर्पण की घोषणा कर दी है। वहां के प्रधानमंत्री का कहना है कि हमारा नियंत्रण नहीं रहा ये संक्रामक रोग हमें मार रहा है। कोरोना वार से कल रहा 426 लोगों की मौत हो गई वहीं आज 627 लोगों की और मौत हो गई है। यहां तीन दिनों में 1529 मौते हो चुकी है वहीं एक दिन में 5,986 नए मामले सामने आए हैं। भारत समेत
177 देशों में फैला कोरोना वायरस महामारी
बता दें कि इटली में कुल संक्रमितों की संख्या 59,138 पहुंच चुका है वहीं 5,476 लोगों की मौत हो चुकी है हालांकि 1,045 लोग ठीक हुएं हैं। विश्व स्तर पर कहर ढ़ाह रहे कोरोना वायरस के अब तक 326,686 मामले सामने आ चुके हैं वहीं 14,507 लोगों की मौत हो गई है इसके अलावा 6907 लोग ठीक हो चुके हैं। वहीं भारत समेत 177 देशों में कोरोना वायरस फैल चुका है। अगर भारत की बात की जाय तो दिन प्रति दिन फैलता जा रहा है वहीं अगर भारत की बात की जाए तो सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में प्रकोप देखने को मिला है महाराष्ट्र में तीन की मौत हो चुकी है और पूरे भारत में 7 की मौत हो चुकी है और 433 लोग कोरोना वायरस से पॉजिटिव पाए गए हैं दिल्ली समेत 19 राज्यो में लॉकडाउन लगा दी गई  है प्रधानमंत्री मोदी के कथना अनुसार जनता कर्फ्यू यह वह कर्फ्यू है जनता के द्वारा जनता पर लगाई गई कर्फ्यू है  इस कर्फ्यू का मतलब है लोग बाग अपने घर में रहे 31 मार्च तक कोई ज्यादा जरूरी काम हो तो तभी घर से निकले  ताकि कोई और व्यक्ति इस बीमारी का शिकार ना हो सके और जनता जागरूक भी हो सके  ताकि लोग सतर्क रहे और अपने और अपने परिवार की रक्षा कर सकें भारत लगभग 135 करोड़ लोगों का देश है बहुत सारे लोग जनता कर्फ्यू की सराहना कर रहे हैं और समर्थन भी कर रहे हैं  समर्थन का झलक 22 तारीख का शाम 5:00 बजे ताली बजाकर शंख बजाकर घंटी बजाकर थाली बजाकर जनता ने कि  कुछ ऐसे लोग भी हैं जोकि इन बातों को अनदेखी कर रहे हैं लॉक डाउन को  नहीं पालन करने पर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी एक और बात दू लॉक डाउन के दौरान खुली रहेंगी मेडिकल की दुकान किराने की दुकान हॉस्पिटल सब्जी की दुकान एटीएम दूध के बूथ गैस सेवाएं सार्वजनिक  ट्रांसपोर्ट टेलीकॉम सेवा खाने की होम डिलेवरी ई कॉमर्स और सबसे बड़ी बात है जो लोग  किराए पर रहते है उनके लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री ने घोसना की है कि मकान मालिक एक महीने का किराया ना ले.


Post a Comment

0 Comments