समस्तीपुर में फाइनेंस कर्मी को गोली मारकर लूटने वाला पांच अपराधियो को पुलिस ने किया गिरफ्तार।

समस्तीपुर: (अमरदीप नारायण प्रसाद) उजियारपुर डीएसपी कुंदन कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम ने एलएनटी फाइनेंस कर्मी से लूट करने वाले पांच शातिर को गिरफ्तार किया गया है। साथ ही घटना में प्रयुक्त तीन मोबाइल भी बरामद किए हैं। जिसका मास्टरमाइंड एक फाइनेंस कर्मी है जो हाल ही में कंपनी का काम छोड़ चुका था। दो लोकल लाइनर, एक कमीशन एजेंट व दो तीन अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया।

गिरफ्तार आरोपितों की पहचान मुफस्सिल थाने के केवस जागीर निवासी चंदेश्वर दास के पुत्र मुकेश दास, अंगारघाट थाना निवासी भीखर साह के पुत्र गुड्डू कुमार और सजनी साह के पुत्र वैजू साह, उजियारपुर थाना के निकसपुर निवासी संजय कुमार चौधरी के पुत्र बिट्टू कुमार और रामबल्लभ चौधरी के पुत्र सरोज कुमार के रूप में की गई है।

शनिवार को मुफस्सिल थाना परिसर में प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए पुलिस अधीक्षक विकास बर्मन ने मामले का पर्दाफाश किया। उन्होंने बताया कि सुनियोजित साजिश के तहत आरोपितों ने घटना को अंजाम दिया। जिसका मास्टर माइंड एक फाइनेंस कर्मी है। जो हाल ही में कंपनी का काम छोड़ कर चुका है और अपने अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर वारदात का अंजाम दिया।

घटना के दिन कमीशन एजेंट के रूप में कार्य करने वाले मुकेश दास ने कलेक्शन के 87 हजार 200 रुपये फाइनेंस कर्मियों को दिया था। दो लोकल लाइनर गुड्डू और सरोज उनकी गतिविधियों पर नजर बनाए हुए थे। उसने बैजू साह, बिट्टू समेत अन्य सहयोगियों के साथ फाइनेंस कर्मियों का पीछा किया।

हथियार के बल पर फाइनेंस कर्मियों से कलेक्शन के एक लाख 75 हजार रुपये लूट लिया। विरोध करने पर एक फाइनेंस कर्मी को गोली मारकर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया था। पूछताछ में गिरफ्तार आरोपितों ने घटना में संलिप्तता स्वीकार की है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि घटना में संलिप्त आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर दलसिंहसराय डीएसपी कुंदन कुमार के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन किया गया था।
बता दें कि नौ फरवरी की शाम उजियारपुर थाना के देसुआ और मालती के बीच बाइक सवार अपराधियों ने एलएनटी फाइनेंस कर्मियों से हथियार के बल पर लूटपाट की थी। छापेमारी दल में उजियारपुर थानाध्यक्ष शंभुनाथ सिंह, सअनि सिलवेस्टर खलखो, अविनाश कुमार शर्मा, विनोद कुमार, रवींद्र तिवारी समेत सशस्त्र बल के जवान मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments