-->

मेरी ब्लॉग सूची

कोरोना पर बिहार सरकार का बड़ा फैसला, सभी स्कूल-कॉलेज 31 मार्च तक बंद, बिहार दिवस पर होनेवाले कार्यक्रम भी तत्काल रद, कर्मचारियों को अल्टरनेट डे बुलाने पर सरकार जल्द ले सकती है निर्णय

कोरोना पर बिहार सरकार का बड़ा फैसला, सभी स्कूल-कॉलेज 31 मार्च तक बंद, बिहार दिवस पर होनेवाले कार्यक्रम भी तत्काल रद, कर्मचारियों को अल्टरनेट डे बुलाने पर सरकार जल्द ले सकती है निर्णय

PATNA : कोरोना पर उच्यस्तरीय बैठक के बाद शुक्रवार को बिहार सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सभी स्कूल-कॉलेज 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिए गए हैं। सीएम नीतीश की अध्यक्षता में हुई बैठक के बाद यह फैसला लिया गया है। सार्वजनिक पार्क, सिनेमा हॉल और जू को भी बंद रखने का फैसला लिया गया है। आंगनबाड़ी केंद्रों को भी बंद कर दिया गया है। हालांकि सीबीएसइ की परीक्षाएं जारी रखने का फैसला लिया गया है। सीएम नीतीश की अध्यक्षता में हुई बैठक के बाद प्रधान सचिव दीपक कुमार ने यह जानकारी दी।

उन्होनें कहा कि अबतक 142 मरीजों की जांच की गई है, जिसमें कोई भी कोरोना वायरस पीड़ित नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि सभी स्कूल-कॉलेज और कोचिंग को बंद रखने का आदेश दिया गया है। सभी निजी स्कूल-कॉलेज और कोचिंग भी 31 मार्च तक बंद रहेंगे। निजी स्कूलों से परीक्षाएं भी स्थगित करने का आग्रह किया गया है। हालांकि सीबीएसइ की दसवीं और 12वीं की परीक्षाएं जारी रहेंगी।

लेकिन, 31 मार्च तक सूबे के स्कूल-कॉलेज और कोचिंग बंद रहेंगे। सरकार ने यह भी फैसला लिया है कि मिड डे मिल के बदले मिड डे मिल की राशि सीधे बैंक खाते में भेजी जाएगी। सरकार ने आंगनबाड़ी केंद्रों को भी बंद रखने का आदेश दिया है। बिहार दिवस भी तत्काल नहीं मनाया जाएगा। बिहार दिवस पर होनेवाले कार्यक्रम भी तत्काल स्थगित कर दिया गया है। 

स्पोर्ट्स और कल्चरल कार्यक्रम को भी बंद रखने का सरकार ने सभी से अपील की है। सरकारी पार्क और जू भी 31 मार्च तक बंद रहेंगे। सरकार ने लोगों से अपील की है कि गैरजरूरी यात्रा ना करें। अपने घरों में ही रहें और संक्रमण से बचें।

सरकारी कार्यालयों में कर्मचारियों को भी अल्टरनेट डे बुलाने पर सरकार जल्द फैसला ले सकती है। अर्थात आधे कर्मचारी एक दिन और आधे कर्मचारी अगले दिन काम पर बुलाए जाएंगे। नेपाल बॉर्डर पर सघन जांच का निर्णय लिया गया है। मेंडिकल चेकअप के बाद ही किसी को भारत में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। अस्पतालों को अलर्ट कर दिया गया है। 100 वेंटिलेटर अलग-अलग हॉस्पिटल में बढ़ाएं जाएंगे।

एम्स पटना, आइजीआइएमएस और डीएमसीएच में कोरोना वायरस की जांच की सरकार व्यवस्था कराएगी। अर्थात इन अस्पतालों में भी अब कोरोना के संदिग्ध मरीजों की जांच होगी। कोई संक्रमित व्यक्ति मिलने पर उसे आइसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा।

सरकार ने सभी सिनेमा हॉल को भी अगले आदेश तक बंद रखने का निर्णय लिया है। यही नहीं, पटना संग्रहालय और बिहार म्यूजियम को भी बंद कर दिया गया है। निजी मॉल और किसी तरह के सार्वजनिक कार्यक्रमों को बंद कराने पर सोमवार को फैसला किया जाएगा।

0 Response to "कोरोना पर बिहार सरकार का बड़ा फैसला, सभी स्कूल-कॉलेज 31 मार्च तक बंद, बिहार दिवस पर होनेवाले कार्यक्रम भी तत्काल रद, कर्मचारियों को अल्टरनेट डे बुलाने पर सरकार जल्द ले सकती है निर्णय"

टिप्पणी पोस्ट करें