-->

मेरी ब्लॉग सूची

शारजाह में तेल पोत में आग लगने से मरने वाले तीसरे भारतीय का शव पटना भेजा गया, 29 जनवरी को हुआ था हादसा

शारजाह में तेल पोत में आग लगने से मरने वाले तीसरे भारतीय का शव पटना भेजा गया, 29 जनवरी को हुआ था हादसा

पटना : शारजाह के तट पर तेल पोत में आग लगने के कारण जान गंवाने वाले तीसरे भारतीय का शव भी भारत भेज दिया गया. 29 जनवरी को टैंकर में आग लगने से हादसा हुआ था. दुबई के भारतीय वाणिज्य दूतावास ने बुधवार को ट्वीट किया कि मोहम्मद अब्बास अंसारी का शव गृह नगर बिहार के पटना भेज दिया गया. पहचान नहीं हो पाने के कारण डीएनए जांच की गयी, जिसके बाद तीसरे भारतीय के शव को वापस भेजा गया.
डीएनए के मिलान के बाद शव की हो सकी शिनाख्त
भारतीय मिशन ने ट्वीट किया, ''29 जनवरी 2020 को जहाज (एमटी एसएएम) में आग लगने से मरने वाले मोहम्मद अब्बास अंसारी का शव कल भारत के पटना भेज दिया गया. उसके बेटे से डीएनए के मिलान के बाद शव की शिनाख्त हो सकी.'' गल्फ न्यूज के अनुसार, आग लगने के कई दिनों बाद निकाले जा सके दो लोगों के शवों की पहचान नहीं हो पा रही थी, जिसके लिए डीएनए टेस्ट का सहारा लिया गया.
तेल जहाज में 29 जनवरी को लग गयी थी आग

आग हादसे में जान गंवाने वाला अंसारी तीसरा भारतीय था, जिसका शव स्वदेश भेजा गया. हादसे में जान गंवाने वाले आंध्र प्रदेश निवासी शिव नगा बाबू और पश्चिम बंगाल के बासुदेब हलदर के शव 13 व 20 फरवरी को भारत भेजा गया था. एक अन्य भारतीय तमिलनाडु निवासी कोलांगी थंकावेल अब तक लापता है. शारजाह तट के पास तेल जहाज में 29 जनवरी को आग लग गयी थी, जिसमें चालक दल के 12 सदस्यों के अलावा 42 तकनीशियन भी सवार थे.

0 Response to "शारजाह में तेल पोत में आग लगने से मरने वाले तीसरे भारतीय का शव पटना भेजा गया, 29 जनवरी को हुआ था हादसा"

टिप्पणी पोस्ट करें