-->

मेरी ब्लॉग सूची

शराब जांच रही पुलिस के हाथ लगा खजाना, वाराणसी से आ रहे पश्चिम बंगाल के युवकों से मिला सवा करोड़ कैश, टेरर फंडिंग के बिंदु पर भी पुलिस की जांच

शराब जांच रही पुलिस के हाथ लगा खजाना, वाराणसी से आ रहे पश्चिम बंगाल के युवकों से मिला सवा करोड़ कैश, टेरर फंडिंग के बिंदु पर भी पुलिस की जांच

KAIMUR : शराब की जांच कर रही कैमूर पुलिस शुक्रवार को उस समय भौंचक रह गई जब एक ब्लू रंग की स्विफ्ट डिजायर कार से सवा करोड़ रूपये कैश बरामद मिला। गाड़ी में सवार पश्चिम बंगाल के शाहनूर मलिक और एसके जहीर हुसैन अब तक कैश के वैध कागजात नहीं दिखा पाए हैं। आयकर विभाग को सूचना देकर पुलिस मामले की जांच में जुटी है। पाच बंडल में पांच सौ और दो हजार के नोट थे जिसे गिनने के लिए बैंक से टेलर मशीन मंगानी पड़ी। 

दरअसल, पुलिस होली के मद्देनजर शराब तस्करी रोकने को वाहन जांच अभियान चला रही थी। अभियान के दौरान पुलिस को शराब तो हाथ नहीं लगी, लेकिन एक ऐसी कार हाथ लगी जिसके अंदर से लगभग सवा करोड़ रूपये जब्त किए गए। कार चालक और उसपर सवार एक अन्य व्यक्ति को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। बताया जा रहा है कि ब्लू रंग की यह स्विफ्ट डिजायर कार वाराणसी से पश्चिम बंगाल जा रही थी। इसी दौरान जब एनएच-2 पर मोहनिया समेकित चेकपोस्ट पर पुलिस ने वाहन की जांच की तो पिछली सीट के अंदर लॉकरनुमा तहखाने से सवा करोड़ रूपये बरामद किए गए।
फिलहाल आयकर विभाग के अधिकारियों को सूचना दी गई तो टीम पहुंची, लेकिन कार सवार दोनों युवक कैश के वैध कागजात नहीं दिखा सके। पुलिस ने बताया कि पश्चिम बंगाल से दो लड़के शाहनूर मलिक और एसके जहीर हुसैन ब्लू रंग की स्विफ्ट डिजायर से 3 दिन पहले बंगाल से वाराणसी आए हुए थे। वाराणसी से लौटने के क्रम में उनकी कार से यह कैश बरामद की गई है। हालांकि दोनों अपने आपको निर्दोष बता रहे हैं, लेकिन उनकी कहानी पुलिस को पच नहीं रही है।
उनका दावा है कि वाराणसी में वे दोनों जहां रूके थे उस मकान के मालिक को कार सौंप दी थी। सुबह में मकान मालिक ने कार की चाबी देकर जाने को कहा। उन्हें नहीं मालूम कि रूपये कहां से आए। फिलहाल पुलिस टेरर फंडिंग को लेकर भी जांच कर रही है। वापस जाने के दौरान जब एनएच-2 पर मोहनिया समेकित चेकपोस्ट पर पुलिस ने जांच की रूपये बरामद हुए। एसपी दिलनवाज अहमद ने बताया कि शराब जांच के दौरान ब्लू रंग की स्विफ्ट डिजायर से सवा करोड़ रूपये बरामद किए गए हैं। जांच चल रही है, गिरफ्तार लोगों से पूछताछ जारी है। जब्त रुपयों से संबंधित कोई भी कागजात इन लोगों के पास नहीं है। पुलिस इस बिंदु पर भी जांच कर रही है कि कहीं टेरर फंडिंग के लिए तो यह राशि पश्चिम बंगाल नहीं ले जाई जा रही थी।

0 Response to "शराब जांच रही पुलिस के हाथ लगा खजाना, वाराणसी से आ रहे पश्चिम बंगाल के युवकों से मिला सवा करोड़ कैश, टेरर फंडिंग के बिंदु पर भी पुलिस की जांच"

टिप्पणी पोस्ट करें