-->

मेरी ब्लॉग सूची

शहीद रमेश रंजन का पार्थिव शरीर पहुंचा उनके गांव देव टोला, उनको नमन करने के लिए लगा हजारों की भीड़

शहीद रमेश रंजन का पार्थिव शरीर पहुंचा उनके गांव देव टोला, उनको नमन करने के लिए लगा हजारों की भीड़

बोले शहीद के पिता नहीं चाहिए मुझे मुआवजा ,सरकार दे मेरे बेटे को परमवीर चक्र

आरा : (तारकेश्वर प्रसाद) कश्मीर के बारामुला में शहीद हुए भोजपुर के जगदीशपुर प्रखंड के इसाढी देव टोला निवासी रमेश रंजन सिंह का शव जैसे ही उनके गांव पहुंचा । उनके अंतिम दर्शन के लिए हजारों लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। वीरगति को प्राप्त हुए शहीद सीआरपीएफ के जवान रमेश रंजन की शहादत को लोगो ने किया सलाम।

वही शहीद के पिता ने कहा कि मुझे फक्र है अपने बेटे पर इस दौरान उन्होंने कहा कि मुझे मुआवजा नहीं चाहिए बल्कि मेरे बेटे को परमवीर चक्र सरकार प्रदान करें। जिससे मेरा छाती और छोरा हो जाए और मैं शहीद का पिता का नाम।वही उन्होंने कहा कि मुझे फक्र है कि मेरे बेटे ने दुश्मनों के दांत खट्टे कर उन्हें मार गिराया। लेकिन उसके जाने का भी गम है। इस दौरान शहीद की मा रोती रही। शहीद राकेश रंजन के जीजा ने कहा कि रमेश की पत्नी को सरकार तत्काल नौकरी दे। शहीद की पत्नी जार जार रोए जा रही थी। बक्सर के एसपी राकेश कुमार। आरा के एएसपी अभियान नितिन कुमार सहित तमाम अधिकारी वहां शहादत को सलाम करने के लिए पहुंचे ।

0 Response to "शहीद रमेश रंजन का पार्थिव शरीर पहुंचा उनके गांव देव टोला, उनको नमन करने के लिए लगा हजारों की भीड़"

टिप्पणी पोस्ट करें