बिहार विधानसभा चुनाव: सभी 243 सीटों पर तैयारी करेगी एलजेपी, कहा- इससे एनडीए को होगा फायदा

पटना: बिहार में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं. एनडीए में सीट बंटवारे में अधिक से अधिक सीट पाने के लिए दबाव की राजनीति शुरू हो गई है. 'बिहार फर्स्ट, बिहारी फर्स्ट' के बहाने जनता की नब्ज टटोलने निकले चिराग पासवान ने आज 243 सीटों पर तैयारी करने का एलान किया है.
करीब एक महीने पहले पार्टी ने उन 119 सीटों पर दावा किया था जिनपर जेडीयू या बीजेपी का सिटिंग विधायक नहीं है. लेकिन आज अचानक 243 सीटों पर तैयारी करने का निर्देश जारी कर दिया गया. लोक जनशक्ति पार्टी के प्रधान महासचिव अब्दुल खलीक ने बिहार के प्रदेश अध्यक्ष प्रिंस राज को पत्र लिखकर निर्देश दिया. 
पत्र में क्या लिखा है?
इस पत्र में लिखा गया है कि पिछले कई दिनों से पार्टी के कई वरिष्ठ साथी यह मांग करते आ रहे हैं कि पार्टी को सभी 243 सीटों पर तैयारी करनी चाहिए. सभी विधान सभा क्षेत्रों में पार्टी सदस्यता कर जनाधार बढ़ाया जाए ताकि जो कोई भी एनडीए का प्रत्याशी बने उसे उसका फायदा मिले.
119 सीटों के बजाय 243 सीटों पर हो तैयारी
चिट्टी में आगे लिखा गया है कि इसलिए पार्टी ने यह निर्णय लिया है कि पार्टी 119 विधान सभा के बजाय 243 विधान सभा सीटों पर सदस्यता अभियान के तहत अपने आधार को बढ़ाएगी ताकि इसका लाभ एनडीए प्रत्याशी को मिले. अगर कोई विधायक जो जनता का विश्वास खो चुका है वैसी विधानसभा पर एलजेपी अपनी मेहनत और लगन से बंगला वाला झंडा लहरा सके. बता दें कि एलजेपी का चुनावी निशाना बंगला है.
इस पत्र को बिहार के तमाम पदाधिकारियों को भेजा गया है. चिराग पासवान की कोशिश है कि इसी बहाने अपनी पार्टी की साख हर विधानसभा में हो जाए. हालांकि विधायक बनने के लिए उम्मीदवार के लिए कम से कम अपने विधानसभा क्षेत्र में पच्चीस हजार सदस्य बनाने होंगे. तभी उनकी उम्मीदवारी को संसदीय बोर्ड में भेजा जाएगा. चिराग इन दिनों यात्रा के दौरान चौंकाने वाले फैसले ले रहे हैं. दारोगा बहाली में हुई धांधली के लिए सीबीआई से जांच की मांग को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को चिट्टी लिख दी. प्रशांत किशोर की तारीफ भी की.

Post a Comment

0 Comments