बिहार के लोग बीजेपी का CM देखना चाहते हैं, नीतीश का चेहरा अब पुराना हो गया : संजय पासवान

DESK: पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधान पार्षद संजय पासवान के बयान पर जेडीयू भड़क गया है. दरअसल, उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को ‘थका चेहरा’ और ‘पुराना चेहरा’ बताया था. जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) ने बीजेपी नेतृत्व से ऐसे ‘बड़बोले’ नेताओं पर कार्रवाई करने तक की मांग कर दी है.
बीजेपी के नेता पासवान ने बुधवार को कहा था कि बिहार के लोग एक बीजेपी नेता को बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं. उन्होंने दावा किया कि झारखंड वाली स्थिति बिहार में नहीं है. बिहार में बीजेपी किसी भी राज्य से और यहां के अन्य दलों से मजबूत और सक्रिय पार्टी है.  उन्होंने कहा था कि नीतीश कुमार का चेहरा अब पुराना हो गया है. बिहार के लोग अब थके नीतीश कुमार की जगह बीजेपी का मुख्यमंत्री देखना चाहते हैं. पासवान के इस बयान को हालांकि बीजेपी के प्रवक्ता निखिल आनंद ने व्यक्तिगत बयान बताया परंतु जेडीयू इस बयान को लेकर भड़क गई है.
जेडीयू के महासचिव केसी त्यागी ने कहा कि पार्टी नेतत्व को ऐसे बयानों पर संज्ञान लेना चाहिए. उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ऐसे बयानों पर संज्ञान लेंगे और आगे से इस तरह के बयान पर रोक लगाएंगे. 
त्यागी ने कहा कि अमित शाह ने सार्वजनिक रूप से कहा है कि राजग बिहार में विधानसभाा का चुनाव मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में लड़ेगा. ऐसी ही बातें राजग में शामिल लोजपा के अध्यक्ष चिराग पासवान और पूर्व अध्यक्ष रामविलास पासवान भी दोहरा चुके हैं.
उन्होंने कहा कि जेडीयू के किसी नेता ने अब तक बीजेपी के नेतृत्व पर नकारात्मक टिप्पणी नहीं की है, ऐसे में बीजेपी को भी इससे बचना चाहिए.
बता दें कि बीजेपी नेता संजय पासवान ने बुधवार को पत्रकारों के साथ चर्चा करते हुए इशारों ही इशारों में बीजेपी को अकेले चुनाव मैदान में उतरने की सलाह देते हुए कहा था कि हम बिहार में अकेले चुनाव जीतने में सक्षम हैं.
गौरतलब है कि बिहार में बीजेपी, जेडीयू और लोजपा गठबंधन की सरकार चल रही है, जिसका नेतृत्व नीतीश कुमार कर रहे हैं.

Post a Comment

0 Comments