NRC पर जदयू का नरम रुख, BJP ने किया स्वागत तो विपक्ष ने बोला हमला

 पटना: तीन तलाक और राम मंदिर के बाद अब जदयू (JDU) का रुख NRC को लेकर काफी नरम दिखाई दे रहा है। अपने सहयोगी के इस फैसले से एक तरफ बीजेपी काफी खुश है तो दूसरी तरफ विपक्ष हमलावर। NRC मुद्दे पर बार-बार विपक्ष जदयू (JDU) से सवाल करता रहा है कि वो इस मुद्दे पर अपना स्टैंड क्लियर करें। इसपर मुख्यमंत्री नीतीश ने साफ किया है कि अभी हमारा स्टैंड क्लियर नहीं है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार  ऑफ दा कैमरा पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि उनकी पार्टी जदयू का राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) पर स्टैंड अभी तय नहीं है। 
उन्होंने कहा कि हम पार्टी के अंदर इस मामले पर विमर्श कर रहे हैं। खासकर पूर्वोत्तर राज्यों के अपने सहयोगियों से विमर्श कर रहे हैं। पार्टी नेताओं से राय लेने के बाद ही इस संबंध में स्टैंड तय किया जाएगा। मुख्यमंत्री के इस फैसले के बाद BJP काफी खुश है। मुख्यमंत्री का यह फैसला विपक्ष को रास नही आ रहा है।  विपक्ष की माने तो ना नीतीश कुमार और ना ही जदयू का कोई नीति या सिध्दांत है, केवल सत्ता और कुर्सी के कारण नीतीश कुमार अपने सभी मुद्दों के साथ समझौता कर रहे है ।
बहरहाल यह सच है की जदयू अपने हर मुद्दों पर बैकफुट पर दिखाई दे रही है। हालांकि NRC पर अभी जदयू का रुख स्पष्ट नहीं है। गृह मंत्री अमित शाह ने साफ कर दिया है की देश मे NRC लागू होगा।  ऐसे में अब सवाल यह है की क्या ऐसा भी प्रावधान है कि कोई राज्य इसे लागू नहीं भी कर सकता ? अभी एनआरसी को देश में लागू करने को लेकर एक्ट नहीं बना है। जब बनेगा तभी यह बात स्पष्ट होगी। 

Post a Comment

0 Comments