ड्राइवर की मिलीभगत से हुई जदयू नेता सह ठेकेदार की हत्या, शव के साथ गाड़ी बरामद।

दरभंगा: मंगलवार करीब दस बजे एपीएम थानाक्षेत्र में जदयू नेता सह ठेकेदार हायाघाट के औलियाबाद निवासी सैफ अली उर्फ मुन्ना के हत्या कर गाड़ी सहित लाश गायब करने की घटना का पटाक्षेप हो गया है। घटना के आठ घण्टे के अंदर पुलिस ने मामले का पटाक्षेप करके गाड़ी सहित लाश बरामद कर लिया तथा साजिश में शामिल ड्राइवर को हिरासत में ले लिया है। 
इस संबंध में जानकारी देते हुए एसएसपी बाबूराम ने बताया कि उक्त मामले में मृतक के ड्राइवर रिज़वान खां ने अपना अपराध कबूल करते हुए पूरी कहानी बता दी तथा स्कार्पियो सहित शव को रघेपुरा के निकट अब्दुल्ला चौक से बरामद करवा दिया है। मृतक के गांव के ही दो अन्य अभियुक्तों अमीरुल तथा शमीम ने ड्राइवर की मिलीभगत से घटना को अंजाम दिया। पूर्व से परिचित होने के कारण मृतक ने दोनों को लिफ्ट मांगने पर अपनी गाड़ी में बैठाया।
अशोल पेपर मिल के पास आकर पूर्व निर्धारित योजना के अनुसार उन्होंने मृतक को गोली मार दी। दोनों ने ड्राइवर की मदद से गाड़ी सहित डेड बॉडी को अब्दुल्ला चौक के पास एक स्थान पर छिपा दिया। ड्राइवर ने पूर्व निर्धारित योजना के अनुसार वापस आकर मृतक के अपहरण का नाटक रचकर पुलिस और परिवार के लोगों को गुमराह किया।
एसएसपी बाबूराम ने कहा कि इस घटना में और अभियुक्तों की  की जांच तथा दोनों फरार अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु कारवाई की जा रही है।
साथ ही एसएसपी ने बताया कि स्कार्पियो गाड़ी से डेढ़ लाख रुपये भी बरामद हुए हैं। लूटपाट की सम्भावना नही लगती है। घटना की वजह आपसी रंजिश प्रतीत होता है। पुलिस सभी पहलुओं पर जांच कर रही है।

Post a Comment

0 Comments