हाजीपुर सोना लूट कांड में पुलिस को मिले अहम सुराग, अपराधियों की पहचान

पटना: हाजीपुर में हुए 22 करोड़ के सोना लूट कांड में पुलिस को अहम सुराग हाथ लगे हैं. हाजीपुर पुलिस के सहयोग में एसटीएफ की कई टीमें भी पहुंच गई हैं. कई जगहों पर छापामारी हुई है. पुलिस कभी भी इस मामले का पूरी तरह से उद्भेदन कर सकती है.


पुलिस ने 22 करोड़ के सोना लूट कांड को अंजाम देने के मामले में गिरोह की पहचान कर ली है. तीन अपराधियों की पहचान की गई है जबकि तीन अन्य अपराधियों की पहचान की जा रही है. पुलिस के लिए सबसे बड़ी राहत की बात है कि घटना को अंजाम देने वाले गैंग की पहचान कर ली गई है और अब इस गैंग से जुड़े अपराधियों की तलाश में छापामारी की जा रही है. कांड में तीन अपराधियों की पहचान होने के बाद अब पुलिस उनके ठिकानों पर दबिश दे रही है ताकि लूटा गया सोना बरामद किया जा सके.  
पुलिस ने जारी किए हैं अपराधियों के चित्र
पुलिस ने अपराधियों के चित्र जारी कर दिए हैं. सीसीटीवी फुटेज से अपराधियों की पहचान की गई और उनकी तस्वीरें जारी की गई हैं. बेगूसराय, समस्तीपुर, सारण, मुजफ्फरपुर और वैशाली के गैंग द्वारा इस घटना को अंजाम दिया गया है. पुलिस ने अब लूटे गए सोने की बरामदगी पर फोकस कर दिया है.
आईजी एसटीएफ के नेतृत्व में कई टीमें सक्रिय
वैशाली पुलिस के सहयोग में आईजी अभियान सुशील मानसिंह खोपड़े भी वैशाली पहुंचे. एसटीएफ की कई टीमों को लगाया गया है. तकनीकी और परंपरागत तरीके से जांच चल रही है. ह्यूमन इंटेलिजेंस के अलावा टेक्निकल इंटेलिजेंस के सहारे भी मामले का उद्भेदन करने में पुलिस जुटी हुई है.

Post a Comment

0 Comments