मुख्यमंत्री के करीबी जेडीयू नेता सैयद महमूद अशरफ का निधन, नीतीश कुमार ने जताया शोक

पूर्णिया : जेडीयू के वरिष्ठ नेता सैयद महमूद अशरफ का इंतकाल हो गया. उनके रिश्तेदार व पूर्व विधायक रूकनुद्दीन ने उनके इंतकाल की पुष्टि करते हुए बताया कि पीलिया से पीड़ित अशरफ महमूद का निधन हैदराबाद के एक अस्पताल में इंतकाल हो गया. वही करीब एक माह से अस्पताल में भर्ती थे. अशरफ महमूद के इंतकाल पर मुख्यमंत्री ने शोक जताते हुए गहरी संवेदना व्यक्त की है.
जानकारी के मुताबिक, पूर्णिया जिले के बायसी प्रखंड की मीनापुर पंचायत के बैरिया गांव निवासी सैयद महमूद अशरफ का 63 वर्ष की आयु में इलाज के दौरान हैदराबाद के एक अस्पताल में इंतकाल हो गया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के काफी करीबी माने जानेवाले अशरफ महमूद के निधन से सीमांचल की सियासत की अपूरणीय क्षति हुई है. उनके रिश्तेदार और पूर्व विधायक रूकनुद्दीन ने उनके निधन की पुष्टि करते हुए बताया कि अशरफ महमूद पीलिया रोग होने पर हैदराबाद के एक अस्पताल में करीब एक महीना तीन दिन से जूझ रहे थे. वह अपने पीछे चार पुत्र सैयद आमिर जिलानी, सैयद कबीर अहमद, सैयद नुरुलएन, सैयद अहमद मोईन और पुत्री नुड़े आमन को छोड़ गये हैं. 
सीमांचल की सियासत में अशरफ एक बड़े नाम थे. पहली बार साल 1999 में उन्होंने पूर्णिया से सांसद का चुनाव निर्दलीय लड़ा था. बाद में जेडीयू के टिकट पर 2009 और 2019 में किशनगंज से लोकसभा का चुनाव लड़े. 2014 में टिकट नहीं मिलने के कारण वह चुनाव नहीं लड़ पाये थे. उनके दूसरे बेटे सैयद कबीर अहमद अभी किशनगंज में मदरसा शिक्षक हैं. बड़ा बेटा अभी घर पर ही रह रहे हैं. उनके दोनों छोटे बेटे अभी पढ़ाई कर रहे हैं. बेटी भी अभी पढ़ाई कर रही है. उनका बड़े दो पुत्रों का निकाह हो चुका है. उनके निधन पर जेडीयू नेता राकेश कुमार ने गहरी संवेदना व्यक्त की है.

Post a Comment

0 Comments