अहमदाबाद में एक कार का अब तक का सबसे अधिक 9 लाख 80 हजार का चालान हुआ है. कार पर न तो नंबर था और न ही कार चला रहे शख्स के पास कोई भी कागज

 डेस्क: गुजरात के अहमदाबाद के सिंधुभवन रोड पर ट्रैफिक पुलिस ने एक पोर्शे कार को रोका. कार में न तो नंबर प्लेट था नहीं गाड़ी के कागज. और तो और चालक के पास लाइसेंस भी नहीं था. फिर क्या था नये मोटर वेहिकल एक्ट के तहत उस गाड़ी के मालिक पर 9 लाख 80 हजार रुपये का चालान ठोक दिया गया. और कोई होता तो उसके लिए इतनी भी भरकम चालान की रकम देना भारी पड़ जाता लेकिन यह गाड़ी ऐसी वैसी थोड़े ही थी. इस लक्जरी कार की कीमत भी लगभग सवा दो करोड़ रुपये है. गाड़ी के मालिक ने तुरंत चालान का भुगतान कर दिया. कहा जा रहा है कि नए यातायात नियम के लागू होने के बाद से ये सबसे महंगा चालान हुआ है. 

गौरतलब है कि देश में बीते अगस्त महीने में नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद पुलिस और यातायात विभाग की तरफ से भारी भरकम जुर्माना वसूलने का सिलसिला जारी है. हर दिन ज्यादा से ज्यादा रकम के चालान काटने की खबरें सुर्खियों में रहती हैं लेकिन गुजरात में एक कार मालिक से जितना जुर्माना वसूला गया है उतने पैसे में आप एक नई कार तक खरीद सकते हैं. पोर्शे कार के मालिक से कार में नंबर प्लेट, ड्राइविंग लाइसेंस और गाड़ी के दस्तावेज नहीं होने के आरोप में 9.80 लाख रुपये का जुर्माना वूसल लिया.  
पुलिस के इस तरह से भारी भरकम जुर्माना वसूले जाने से खासतौर पर ट्रक ऑपरेटर बेहद परेशान हैं. मोटर व्हीकल एक्ट के विरोध में देश भर के ट्रक ऑपरेटरों ने देशव्यापी हड़ताल शुरू कर दिया है. ट्रक ऑपरेटर्स के मुताबिक जब से मोटर व्हीकल एक्ट लागू हुआ है तब से दिल्ली ही नहीं बल्कि देश भर में ट्रैफिक पुलिस कर्मियों ने ट्रक कारोबारियों से चार गुणा चालान वसूलना शुरू कर दिया है.

Post a Comment

0 Comments