PHOTOS : भारत बंद का बिहार में व्यापक असर , जगह -जगह आगजनी , चक्का जाम , पुलिस-पब्लिक में झड़प , एएसपी घायल

पटना। केंद्र सरकार द्वारा एससी/एसटी एक्ट के विरोध में सवर्णों ने आज भारत बंद  का आह्वान किया। सवर्ण सेना बिहार के कई जिलों में सुबह से ही सड़कों पर उतरी और नारेबाजी-प्रदर्शन किया।राजगीर-पटना, गया-मुगलसराय , लखीसराय- बरौनी सेक्शन पर ट्रेनों का यातायात बुरी तरह से प्रभावित रहा।

जहानाबाद में एएसपी पर जानलेवा हमला

जहानाबाद के काको थाना के एेनवां के पास  बंद समर्थकों ने एएसपी पर हमला कर दिया और पथराव किया जिसमें एएसपी संजीव कुमार घायल हो गए। घायल एएसपी को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

आरा में पुलिस-पब्लिक के बीच हिंसक झड़प 

आरा जिले में बंद समर्थकों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प हुई । इस दौरान बंद समर्थकों ने पुलिस पर पथराव किया जिसके जवाब में पुलिस ने बंद समर्थकों पर लाठीचार्ज किया। आरा में समर्थकों ने कई राउंड फायरिंग भी की । घटना शहर के नवादा थानाक्षेत्र के जगदेव नगर मुहल्ले की बतायी जा रही है।

बंद के दौरान मध्य रेलवे के चार रेल डिवीजनों में 30 ट्रेनों को रोका गया, दानापुर डिवीजन में 18 ट्रेनों को रोका गया, मुगलसराय डिवीजन में चार ट्रेनों को रोका गया, सोनपुर डिविजन में पांच ट्रेनों को रोका गया और वहीं समस्तीपुर डिवीजन में भी तीन ट्रेनों को रोका गया।

भाजपा कार्यालय के बाहर हंगामा, पुलिस पर किया पथराव

सवर्णों ने पटना में भाजपा प्रदेश कार्यालय के बाहर जमकर प्रदर्शन किया और तोड़फोड़ की। बंद समर्थक कार्यालय के बाहर धरना पर बैठ गए। पुलिस और बंद समर्थकों के बीच झड़प भी हुई, जिसके बाद बंद समर्थकों ने पुलिस पर पथराव किया। उत्पात मचाने वाले कुछ बंद समर्थकों को पुलिस ने हिरासत में भी लिया है।

बता दें कि समर्थकों ने पहले ही भाजपा प्रदेश कार्यालय के बाहर प्रदर्शन की घोषणा की थी। जिसे लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे और वहां स्टेट रैपिड एक्शन फोर्स की तैनाती की गई थी।

मोकामा में बंद समर्थकों ने रोकी ट्रेन

पटना के मोकामा में बंद समर्थकों ने मोकामा स्टेशन पर झाझा पटना ईएमयू ट्रेन को रोककर जमकर बवाल काटा जिससे रेल परिचालन बाधित रहा । मोकामा कियूल रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन अवरुद्ध हो गया वहीं समर्थकों ने बाजार को भी बंद करा दिया ।

प्रखंड के कई स्थानों पर एनएच 31 व 80 पर जाम लगाकर आवागमन भी ठप कर दिया गया । सुबह आठ बजे से ही सेना के कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन के लिए सड़कों पर उतरे। इस दौरान रेल पुलिस व लोकल पुलिस के साथ नोक झोंक भी हुई।

बंद समर्थकों व विरोधियों में मारपीट, स्थिति तनावपूर्ण 

दरभंगा जिले के बहादुरपुर थाने के हरिपट्टी चौक पर सड़क जाम को लेकर बंद समर्थकों व विरोधियों में मारपीट। दो के घायल होने की सूचना है, यहां स्थिति तनावपूर्ण बनी रही।

मुजफ्फरपुर में एससी-एसटी एक्ट के खिलाफ जिले में बंद समर्थकों ने ट्रेन व बसें रोक दी । बाजार भी बंद कराया । बंद को देखते हुए शैक्षणिक संस्थानों को पहले से ही बंद करने का आदेश दिया गया था। इस कारण शैक्षणिक संस्थान भी पूरी तरह बंद हैं। सभी प्रमुख स्थानों पर मजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारियों की तैनाती की गई थी। वहीं, दरभंगा में समर्थकों ने संपर्क क्रांति एक्सप्रेस ट्रेन को रोक दिया ।



कई जिलों में सड़कों पर गाड़ियों की लंबी कतार देखी गई। बेगूसराय में भी सवर्णों ने जिले के कई जगह एनएच 28, एनएच 31 एस एच  55 सहित शहर के गली मोहल्लों में स्थानीय सड़क को भी जाम कर दिया एवं सरकार विरोधी नारेबाजी करते रहे।

भारत बंद को लेकर सूबे में पुलिस और प्रशासन अलर्ट रहा। पटना में डाकबंगला चौराहे की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। बंद समर्थक राजेंद्रनगर स्टेशन पर सुबह-सुबह पहुंच गए  और लगातार नारेबाजी की और ट्रेन यातायात काफी देर तक प्रभावित रहा। बंद समर्थक ट्रेन की पटरियों पर सो गए थे, बाद में जीआरपी के जवानों ने बंद समर्थकों को पटरी से हटाया।



जहानाबाद में एससी-एसटी एक्ट के विरोध में भारत बंद के दौरान बंद समर्थकों ने अरवल मोड़ के समीप एनएच-83 और एनएच-110 को जाम कर दिया और विरोध प्रदर्शन कर नारेबाजी की। समर्थकों ने कई वाहनों के टायर से हवा भी निकाल दी ।

नवादा जिले में भी बंद का व्यापक असर दिखा। बेगूसराय में चांदनी चौक के पास सड़क जाम है। आरा में फुलारी के पास रोड जाम रहा।



वैशाली के लालगंज में एससी-एसटी एक्ट के विरोध में सवर्ण मोर्चा के भारत बंद का खासा असर देखने को मिला। आक्रोशित लोगों ने कई जगह पर मुख्य सड़कों को जाम कर दिया । प्रदर्शनकारी सड़क पर आगजनी कर हंगामा कर रहे थे।हाजीपुर-लालगंज मार्ग पर वाहनों का परिचालन पूरी तरह से ठप रहा।

बांका जिले में भी एससी-एसटी एक्ट के खिलाफ सवर्ण सेना के कार्यकर्ताओं ने गांधी चौक पर विरोध प्रदर्शन किया । समर्थकों ने टायर जलाकर सड़क को जाम कर दिया ।



हाजीपुर में भारत बंद के आह्वान पर जिले में कई जगहों पर लोगों ने सड़क जाम किया । हाजीपुर-लालगंज, हाजीपुर-महुआ, हाजीपुर-महनार सड़क को कई जगह पर लोगों ने टायर जला कर किया जाम।

दरभंगा में  एससी-एसटी एक्ट के विरोध में समर्थकों ने जाले-अतरबेल पथ को जाम कर दिया । लोगों ने टायर जलाकर विरोध किया है।

सिवान जिले के सिसवन में एससी-एसटी आरक्षण के विरोध में सड़क पर सवर्ण समाज के लोगों ने धरना-प्रदर्शन किया।



नालंदा में एससी-एसटी अध्यादेश के खिलाफ भारत बंद का शेखपुरा जिला में मिला-जुला असर देखने को मिला ।जिला मुख्यालय शेखपुरा में जहां यह बंद पूरी तरह बेअसर दिखा, वहीं जिला के दूसरे हिस्से बरबीघा तथा शेखोपुरसराय में बंद समर्थकों ने सड़क पर जमकर मनमानी की । बरबीघा तथा शेखोपुरसराय इलाके में बंद समर्थकों ने एनएच तथा एसएच पर गाड़ियों का परिचालन ठप किया।

सवर्ण शक्ति मंच ने रांची रोड को जाम कर दिया है। सड़क पर आगजनी की । भारत बंद की सफलता को लेकर लोग सड़क पर उतरे हैं। एससी एसटी एक्ट का विरोध करते रहे।

लखीसराय में एससी-एसटी एक्ट के खिलाफ भारत बंद को लेकर सवर्ण समाज के लोग सड़क पर उतरने लगे। जिले के बड़हिया नगर में इंदुपुर के नजदीक मुख्य सड़क पटना-मुंगेर एनएच 80 को जाम कर दिया गया । सड़क पर ट्रैक्टर खड़ी करके पूर्ण रूप से आवागमन को बाधित कर दिया गया ।



लखीसराय में सवर्णों के आंदोलन ने बड़ा रूप ले लिया । जिले के सभी राष्ट्रीय और राजकीय पथों को जाम कर दिया गया । बाजार भी बंद कराए गए। जगह जगह सड़कों पर टायर जलाया गया। ट्रक और ट्रैक्टर खड़ी कर देने के कारण बाइक, साइकिल सवार यहां तक कि पैदल निकलना भी मुश्किल हो रहा था। बड़हिया, लखीसराय के विद्यापीठ चौक, हलसी, सूर्यगढ़ा इलाके में कार्यकर्ता सड़कों पर रहे। सभी लोग सवर्ण सेना जिंदाबाद के नारे लगाते रहे ।

किऊल-गया रेल खंड को एएसी-एसटी एक्ट के विरोध में किया जाम। सिसमा गांव के समीप रामपुर हाट-गया पैसेंजर ट्रेन को रोककर लोग कर रहे प्रदर्शन। रेल मार्ग भी हुआ जाम।

शेखपुरा जिले में भी भारत बंद का खासा असर दिखा। बंदको लेकर बरबीघा में सवर्ण मोर्चे की ओर से हटिया मोड़ के पास सड़क जाम किया गया, इसके कारण इस मार्ग पर यातायात पूरी तरह प्रभावित रहा। सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। सड़क जाम रहने के कारण स्कूल की बसें भी जाम में फंसी रहीं।



मधुबनी जिले के रहिका प्रखंड में एससी-एसटी एक्ट संशोधन के खिलाफ भारत बंद का आह्वान करते हुए सवर्ण समाज के लोगों ने रहिका मु्ख्य पथ को जाम कर दिया और नारेबाजी की। वहीं, मधुबनी में सेल्सटैक्स चौक को भी बांस-बल्ले से घेर वहां टायर जलाकर लोग प्रदर्शन किया। यातायात पूरी तरह अवरूद्ध रहा।

प्रदेश में हाई अलर्ट जारी 

पुलिस मुख्यालय ने बुधवार को हाई अलर्ट जारी किया। अपर पुलिस महानिदेशक कानून-व्यवस्था आलोक राज ने जिलों को पुख्ता सुरक्षा इंतजाम सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। प्रदेश भर के पुलिस अधीक्षकों को सतर्कता बरतने की हिदायत, हिंसा करने वालों को सख्ती से निपटने के आदेश दिया गया है।

दरअसल, अलग-अलग संगठनों ने सोशल मीडिया के माध्यम से छह सितंबर को बंद का आह्वान किया जा रहा है।  ऐसे में गुरुवार को देशव्यापी बंद के दौरान सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिला पुलिस को एहतियात बरतने के निर्देश दिए गए हैं। सभी जिलों के एसएसपी- एसपी को अलर्ट पर रहने के आदेश के साथ ही रेल और सड़क मार्ग के अलावा विभिन्न संवेदनशील स्थानों पर विशेष चौकसी बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

कथित भारत बंद को लेकर पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है। जिलों में अतिरिक्त बल तैनात कर दिया गया है। कोई व्यक्ति या समूह कानून को हाथ लेने का प्रयास करेगा तो पुलिस सख्ती से उस पर कार्रवाई करेगी।

- आलोक राज, अपर पुलिस महानिदेशक, कानून व्यवस्था

Post a Comment

और नया पुराने

BIHAR

LATEST