देश के नौनिहालों का जीवन और चरित्र का निर्माण करते है शिक्षक , भारती बहन

 

शिवहर, लाल बाबू पांडेय,

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय शिवहर के तत्वावधान बुधवार को प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय में में विकर्षक सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें जिले के विभिन्न स्कूलों के शिक्षकों ने भाग लिया। सबसे पहले भारती बहन ने सभी शिक्षक एवं शिक्षिकाओं को चंदन लगाकर तिलक किया । और उन्हें शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया। इसके साथ ही सभी शिक्षकों किताब कलम कॉपी देकर सप्रेम भेंट किया। इस सम्मान समारोह के अवसर पर
प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की संचालिका भारती बहन ने कहा है कि शिक्षकों के बदौलत ही शिक्षण संस्थानों में छात्रों के जीवन व चरित्र का निर्माण होता है। जिनका आप बचपन से संपूर्ण विकास करते हैं। शिक्षक इस मानव जीवन में विद्यार्थियों में अंतर्निहित सद् गुणों को विकसित कर उनके उत्कृष्ट प्रतिभाशाली व्यक्तित्व को सृजन करते हैं।
इससे पूर्व भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति तथा महान शिक्षाविद दार्शनिक राजनेता एवं संपूर्ण शिक्षक समाज के श्रेष्ठ व्यक्तित्व के धनी स्वर्गीय डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन के चित्र पर माला एवं पुष्प गुच्छ अर्पित कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया गया। मौके पर रामअवतार रामदेव महाविद्यालय के प्राचार्य उमेश नंदन सिंह ने शिक्षक दिवस के अवसर पर भारती बहन से सम्मानित होने के उपरांत कहा कि मुझे विश्वास है कि छात्र छात्राओं में सत्य, अहिंसा, त्याग, बंधुत्व ,नैतिकता, राष्ट्रप्रेम और विश्व मैत्री जैसी उद्दात भावनाओं को विकसित करने तथा आधुनिक विज्ञान की चेतना को समाहित करने में हम सभी शिक्षक एक दिन जरुर कामयाब होंगे।
सम्मानित होने वाले शिक्षक में सेवानिवृत्त शिक्षक नागेंद्र शाह ,उमेश नंदन सिंह प्राचार्य रामअवतार रामदेव कॉलेज, प्रोफेसर उमाशंकर राय, प्रोफेसर विजय कुमार महतो, रामअवतार राय, दिलीप कुमार ,नवल किशोर साह, रूपा कुमारी ,रेनू कुमारी, प्रोफ़ेसर कामिनी कुमारी, निर्मला कुमारी ,सुनंदा कुमारी ,मीना कुमारी ,गुंजा कुमारी, कुमारी बिना वंदना ,किरण कुमारी, प्रमोदिनी कुमारी, लक्ष्मी कुमारी, सरिता कुमारी, बीरबल पंडित सहित दर्जनों शिक्षक शामिल हुए। सम्मान समारोह में पूर्व जिप सदस्य अजब लाल चौधरी , पत्रकार सहित जिले कई गणमान्य लोग भी मौजूद थे। जिन्हें में भारती बहन के द्वारा सम्मानित किया गया।

Post a Comment

और नया पुराने

BIHAR

LATEST