एनएच 30 कीचड़ से भरा आधा सड़क , ग्रामीण और दुकानदार परेशान ,नहीं सुन रहे हैं यहां के आला अधिकारी आखिर सफाई के नाम पर कहां होते हैं लाखों का खर्च ,पूछ रहे हैं यहां की जनता है

बिहार/आरा रिपोर्ट तारकेश्वर प्रसाद (TbnMedia)

आरा।बारिश की वजह से सड़कों पर गंदगी, कीचड़ व जलजमाव की स्थिति हो गई है। जबकि शहर से लेकर गांव तक की सड़कों को बनवाने से लेकर मरम्मती करण के लिए करोड़ों रुपए खर्च किए गए हैं।वही भोजपुर जिले के कोईलवर के समीप एनएच 30 मुख्य मार्ग के आधे सड़क पर पानी के जमाव से सड़क पूरी तरह से कीचड़ में तब्दील हो गया है जिसकी वजह से लोगों का पैदल चलना भी दूभर हो गया है । इस बारिश में रही-सही कसर ठेकेदार ने पूरी कर दी है। दरअसल पाप लाइन बिछाने के लिए ठेकेदार ने इस मार्ग में गड्ढे खोदवाए थे। जबकि पाइप लाइन बिछाने के बाद मलबा सड़क पर ही छोड़ दिया गया जिससे करीब 50 मीटर की कच्ची सड़क में पानी भर जाने की वजह से मार्ग कीचड़ से सन गया है। आलम यह है कि इस मार्ग में दुपहिया वाहन चलना तो दूर लोग पैदल भी नहीं चल पा रहे हैं। वही वहां के ग्रामीणों का कहना है कि इसकी शिकायत कई बार अधिकारियों का किया गया मगर कोई भी अधिकारी सुनने को तैयार नहीं है वहीं इसकी शिकायत सफाई कराने के लिए स्थानीय नगर निगम को भी किया गया लेकिन आज तक उनकी मांग पर गौर नहीं किया गया है, जिसकी वजह से प्रतिवर्ष बारिश के मौसम में यह मार्ग पूरी तरह से कीचड़ युक्त हो जाता है। वह यहां के सटे दुकानदारों ने बताया कि यहां कई दिनों से हम लोगों की दुकानदारी बंद है नगर निगम से शिकायत करने के बाद भी की चरणों में पानी नहीं हटाया जा रहा है जिसके गंध से कई बड़ी जीवाणु उत्पन्न हो सकते हैं और उससे खतरनाक बीमारी लोगों के बीच फैल सकती है यह ना तो नगर निगम के लोग सुन रहे हैं नहीं कोई आला अधिकारी अगर हमारी बातों को नहीं माना गया तो हम लोग एकजुट होकर सड़क पर उतरने का काम करेंगे। वहीं लोगों का आना है कि हम लोग रोज अपने से ही साफ-सफाई की चर्चा करते हैं मगर हम लोग अपना बिजनेस करेगी कीचड़ साफ करें समझ में नहीं आता है और नगर निगम बिना काम किए हुए हम लोगों से सफाई के नाम पर टैक्स वसूली कर ले कर चली जाती है अगर ऐसा होता रहा तो हम सभी मिलकर एक बड़ी आंदोलन कर सकते हैं जिस नगर निगम को आगे चलकर इसकी खामियाजा भुगतना पड़ेगा। वही यहाँ की लोगों का कहना है कि आखिरकार सफाई के नाम पर जो लाखो रुपये आते हैं कहां खर्च हो जाते हैं . सफाई में लाखों रुपए पानी की तरह कहा बहाया जाता है हमें बताएं नगर निगम और जिला प्रशासन ,आक्रोशित ग्रामीणों में मोहम्मद अरमान मोहम्मद संजू मोहम्मद अकबर धर्मवीर चौधरी कर्म चौधरी नरेश मिस्त्री अकबर अली जमाल डोमन महतो नेपाली लड्डू चौधरी इत्यादि लोग थे

Post a Comment

और नया पुराने

BIHAR

LATEST